2022 बजट आम आदमी के लिए बहुत निराशाजनक- डॉ सारिका वर्मा

Viral Sach – कोविड-19 महामारी के 2 साल मे आम जनता की आय कम हुई हैl 20% गरीब तबके के लोग और गरीब हो गए हैं और 4 करोड लोग हिंदुस्तानी गरीबी रेखा के नीचे धकेल दिए गए हैंl इसके बावजूद वित्त मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण के बजट में किसी भी प्रकार की राहत की घोषणा नहीं की गईl

डॉ सारिका वर्मा आम आदमी पार्टी दक्षिण हरियाणा प्रवक्ता ने कहा की 8 वर्षों से लोगों ने बजट की तरफ उम्मीद रखना छोड़ दिया हैl पिछले 8 वर्षों में मध्यमवर्ग को टैक्स ब्रैकेट रिबेट, टैक्स फ्री लिमिट मैं एक पैसे की राहत नहीं मिली हैl सरकार करोड़ों रुपए शिक्षा और खेती सेस लिए जा रही है लेकिन सरकारी स्कूल कॉलेज पूरी तरह ध्वस्त हैंl इस बार भी सरकार ने स्वास्थ्य बजट 1.6% से बड़ाया नहीं है और भारत स्वास्थ्य के मामले में विश्व के 189 देशों की श्रेणी में 179 संख्या पर हैl अपनी जेब से इलाज पर खर्च विश्व भर में सबसे ज्यादा भारतीय करते हैl कृषि कानून वापस लेकर किसान आंदोलन को घर तो लौटा दिया लेकिन किसानों को दिए हुए वादों पर कोई काम नहीं हुआl इस वर्ष एमएसपी पर सरकार ने निवेश 24,800 करोड़ से घटाकर 23,700 करोड़ कर दिया है l एक तरफ किसानों को झूठ बोलकर घर भेज दिया गया और दूसरी ओर किसानों के साथ एमएसपी पर विश्वासघात किया जा रहा हैl

आम गृहिणी एलपीजी गैस सिलेंडर ₹960 पर खरीद कर खून के आंसू रोती हैlपिछले 8 वर्षों में इसकी कीमत दुगनी से भी ज्यादा हो गईl गरीब और ग्रामीण इलाकों में महिलाओं वापिस लकड़ी और उपले के चूल्हे में खाना बनाने पर मजबूर हो गई हैl ऐसे इंधन के वायु प्रदूषण की वजह से महिलाएं और छोटे बच्चे दोनों की सेहत पर गंभीर असर पढ़ रहा हैl डीजल पर एक्साइज कम नहीं किया गया जिसकी वजह से खाद्य पदार्थ महंगे हो गए हैl तेल ₹200 किलो आटा ₹50 किलो आलू प्याज ₹40 किलो मध्यम और गरीब घर की महिलाएं बड़ी कठिनाई से अपनी परिवार की परवरिश कर रही हैl हैरत की बात नहीं कि भारत पोषण की श्रेणी में भी पाकिस्तान और बांग्लादेश के नीचे गिर गया हैl

डॉ सारिका ने कहा ऐसा मालूम होता है की सूट बूट की सरकार केवल रोड, हवाई अड्डे, पोर्ट और क्रिप्टो करेंसी वाले भारत के लिए नीतियां बना रही है और गरीब और मध्यम वर्ग जो 95% भारतीय हैं उन्हें भूल चुकी हैl हम उम्मीद करते हैं की उत्तर प्रदेश उत्तराखंड गोवा और पंजाब के लोग इस सरकार को आईना देखने पर मजबूर करेंगे|

Read Previous

सूरत नगर वार्ड नंबर 11 की जनता नरखीय जीवन जीने पर विवश :- रोहित मदान

Read Next

पेश हुआ काले धन को सफेद करने वाला बजट: पंकज डावर

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Most Popular