30 करोड़ की चोरी का मास्टरमाइंड Gurugram Delhi Border से गिरफ्तार

gurugram delhi border - Vikas Lagarpuria

 

Viral Sach – Gurugram Delhi Border – हरियाणा एसटीएफ की टीम को एक बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। दुबई से अपनी गैंग चलाने वाले और गुरुग्राम में 30 करोड़ से ज्यादा की चोरी की वारदात को अंजाम देने वाले गैंगस्टर विकास लगरपुरिया को एसटीएफ की टीम ने गिरफ्तार कर लिया है।

गुरुग्राम की एसटीएफ टीम को उस वक्त कामयाबी हाथ लगी जब दिल्ली गुरुग्राम बॉर्डर से गैंगस्टर विकास लगरपुरिया को एसटीएफ की टीम ने गिरफ्तार किया। दर असल एसटीएफ की टीम को सूचना मिली थी कि दुबई से अपनी गैंग चलाने वाले विकास लगरपुरिया अपने बीमार पिता को मिलने के लिए अपने गांव जा रहा है।

इसी सूचना को ध्यान में रखते हुए एसटीएफ की टीम ने गुरुग्राम दिल्ली बॉर्डर पर नाकेबंदी की और लगातार तमाम वाहनों की जांच की। इस दौरान एसटीएफ की टीम ने कई लोगों को राउंडअप किया।

दर्जनों लोगों से पूछताछ की और जब विकास लगरपुरिया को गिरफ्तार किया तो लगरपुरिया लगातार अपना नाम और एड्रेस बदल रहा था और तकरीबन 2 घंटे से ज्यादा की पूछताछ के बाद विकास लगरपुरिया ने अपनी पहचान कबूली।

उसके बाद एसटीएफ की टीम ने इस को गिरफ्तार किया हालांकि एसटीएफ को यह कंफर्म करने में करनाल और सोनीपत के गांव में भी फोन करना पड़ा जिनका नाम ले रहा था और जब वहां से साफ हो गया कि इस नाम का कोई भी व्यक्ति इस गांव में नहीं रहता तो एसटीएफ की टीम ने जब सख्ती से पूछी तो फिर विकास लगरपुरिया टूट गया और अपनी पहचान बता दी।

विकास लगरपुरिया पर ना केवल गुरुग्राम बल्कि हरियाणा के अलग-अलग जिलों के साथ-साथ दिल्ली यूपी पंजाब और राजस्थान सहित कुल मिलाकर 24 मामले दर्ज हैं।

जिनमें से एक हत्या के प्रयास के मामले में ये जेल में सजा काट रहा था तो वहीं पैरोल के दौरान सन 2015 में फरार हो गया था और उसके बाद लगातार दुबई से अपनी गैंग को ऑपरेट करता था और गुरुग्राम में सन 2021 में अगस्त के महीने में पूरे 30 करोड़ की चोरी में यह मास्टरमाइंड था।

इस चोरी की अगर हम बात करें गुरुग्राम पुलिस के आईपीएस अधिकारी के साथ दिल्ली स्पेशल पुलिस का जवान भी इसमें शामिल था तो वहीं दो डॉक्टरों ने भी इस पूरी चोरी की वारदात को अंजाम देने में अपना अहम रोल निभाया था।

लेकिन विकास लगरपुरिया इस पूरी वारदात का मास्टरमाइंड था और दुबई से ही बैठकर 30 करोड़ की चोरी की वारदात को अंजाम दे दिया। इस पूरे मामले में एसटीएफ की टीम अब तक 15 लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है तो वही आईपीएस अधिकारी धीरज सेतिया का इसी सप्ताह लाइव डिटेक्टिव टेस्ट भी करवाया गया है। जिसकी रिपोर्ट अभी आना बाकी है। लेकिन मास्टरमाइंड की गिरफ्तारी के बाद जहा इस वारदात में और कई खुलासों की भी उम्मीद जताई जा रही है

एसटीएफ की टीम ने इस 30 करोड़ की चोरी के मामले में अब तक करीब 6 करोड रुपए बरामद भी कर लिए हैं। लेकिन जिस फिल्मी स्टाइल में दुबई से बैठकर गैंगस्टर लगरपुरिया ने 30 करोड़ की चोरी की वारदात का प्लान देखकर गुरुग्राम पुलिस के साथ एसटीएफ के भी होश उड़ गए थे।

लेकिन अब गैंगस्टर की गिरफ्तारी के बाद एसटीएफ को बहुत बड़ी राहत मिलने के साथ-साथ कई और अहम खुलासे होने की भी उम्मीद बढ़ गई है।

Translated by Google 

Viral News – Haryana STF team has got a big success. The STF team has arrested gangster Vikas Lagarpuria, who runs his gang from Dubai and carried out the theft of more than 30 crores in Gurugram.

The STF team of Gurugram got success when the STF team arrested gangster Vikas Lagarpuria from Delhi Gurugram border. In fact, the STF team had received information that Vikas Lagarpuria, who runs his gang from Dubai, was going to his village to meet his ailing father.

Keeping this information in mind, the STF team blocked the Gurugram-Delhi border and continuously checked all the vehicles. During this, the STF team rounded up many people.

Interrogated dozens of people and when Vikas Lagarpuria was arrested, Lagarpuria was continuously changing his name and address and after interrogation of more than 2 hours, Vikas Lagarpuria confessed his identity.

After that the STF team arrested him, although STF had to call Karnal and Sonepat village to confirm that whose name was being taken and when it became clear from there that no person of this name is in this village. When the STF team asked strictly, then Vikas Lagarpuria broke down and revealed his identity.

A total of 24 cases are registered against Vikas Lagarpuria not only in Gurugram but also in different districts of Haryana as well as Delhi, UP, Punjab and Rajasthan.

One of whom was serving a sentence in jail for an attempt to murder, while he absconded during parole in 2015 and thereafter operated his gang continuously from Dubai and in Gurugram in the month of August 2021. He was the mastermind in the entire 30 crore theft.

If we talk about this theft, along with the IPS officer of Gurugram Police, Delhi Special Police personnel were also involved in it, while two doctors also played an important role in carrying out this entire theft incident.

But Vikas Lagarpuria was the mastermind of this whole incident and sitting from Dubai itself, he carried out the theft of 30 crores. The STF team has so far arrested 15 people in this whole case, while the live detective test of IPS officer Dheeraj Setia has also been conducted this week. Whose report is yet to come. But after the arrest of the mastermind, where many more revelations are being expected in this incident.

The STF team has so far recovered about 6 crore rupees in this 30 crore theft case. But the film style in which the gangster Lagarpuria, sitting from Dubai, had lost his senses along with the Gurugram police and STF after seeing the plan of theft of 30 crores.

But now after the arrest of the gangster, along with getting huge relief to the STF, the expectation of many more important revelations has also increased.

Follow us Facebook 

Read More News

Read Previous

मेट्रोपोलिटन विकास प्राधिकरण (जीएमडीए) के सदस्य बने Bodhraj Sikri

Read Next

323 अंधेरी जिंदगियों को रोशनी दे गया 31वां याद-ए-मुर्शिद विशाल Free Eye Checkup व ऑपरेशन शिविर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular