गुरुग्राम जिला में कोरोना के इलाज में प्रयोग होने वाले रेमडेसीविर इंजेक्शन के वितरण के लिए 4 सदस्यीय समिति गठित

गुरुग्राम जिला में कोरोना के इलाज में प्रयोग होने वाले रेमडेसीविर इंजेक्शन के वितरण के लिए 4 सदस्यीय समिति गठित

गुरुग्राम, (मनप्रीत कौर) : गुरुग्राम जिला में कोरोना मरीजों के इलाज में प्रयोग होने वाले जिला में उपलब्ध रेमडेसीविर इंजेक्शन के वितरण के लिए अतिरिक्त उपायुक्त प्रशांत पवार की अध्यक्षता में चार सदस्यीय समिति का गठन किया गया है।

इस संबंध में गुरुग्राम के उपायुक्त डॉ यश गर्ग ने आदेश जारी किए हैं। समिति के अन्य सदस्यों में सिविल सर्जन गुरुग्राम के प्रतिनिधि के तौर पर डॉ संजय नरूला, इंडियन मेडिकल एसोसिएशन गुरुग्राम की अध्यक्ष डॉ वंदना नरूला तथा चीफ फार्मासिस्ट अनिल परमार को शामिल किया गया है।

कोविड-19 मरीजों के उपचार के लिए जिन कोविड अस्पतालों को रेमडेसीविर इंजेक्शन की आवश्यकता है वे कमेटी को ईमेल आईडी – remdesivir.gurugram@gmail.com

पर निर्धारित प्रोफार्मा में आवेदन भेज सकते हैं। इसके अलावा सिविल सर्जन कार्यालय में सुरेंद्र सिंह (9210112953 ) को व्यक्तिगत रुप से प्रोफॉर्मा भरकर दिया जा सकता है। बगैर प्रोफॉर्मा भरे आवेदन या अधूरे प्रोफॉर्मा पर विचार नहीं किया जाएगा।

यह समिति सुनिश्चित करेगी कि सरकारी तथा प्राइवेट अस्पतालों में दाखिल कोरोना मरीजों, जिनको रेमडेसीविर इंजेक्शन की वास्तव में जरूरत है, उन्हें वह इंजेक्शन समय पर मिले। इस कार्य में पूरी पारदर्शिता बरती जाएगी।

जारी आदेशों में कहा गया है कि यह केमेटी दिन में दो बार-  प्रातः 10:00 या 11:00 बजे और शाम को 4:00 या 5:00 बजे प्राप्त आवेदनों का अवलोकन करेगी तथा इंजेक्शन उपलब्ध करवाने के बारे में जल्द फैसला करेगी क्योंकि इसमें समय का महत्व है। यह मीटिंग वर्चुअल माध्यम या डिजिटल प्लेटफॉर्म पर होगी।

 सिविल सर्जन कार्यालय के सुरेंद्र सिंह तथा अनिल परमार कमेटी की मीटिंग बुलाएंगे और सभी सदस्यों से तालमेल करेंगे। ये दोनों कर्मचारी इस दवा के ओवर ऑल प्रबंधन देखेंगे जिसमें वे स्वीकृति या मनाही के निर्णय के बारे में सभी हितधारकों को ई-मेल के जरिए सूचित करेंगे और जिनके आवेदन स्वीकृत किए गए हैं उन अस्पतालों को दवा की डिलिवरी तक की जिम्मेदारी निभाएंगे।

Leave your comment
Comment
Name
Email