एकलव्य के वंशजों का 40 सदस्यों का दल तेलंगाना से मिट्टी लेने के लिए आया गुरुग्राम

एकलव्य के वंशजों का 40 सदस्यों का दल तेलंगाना से मिट्टी लेने के लिए आया गुरुग्राम

 

गुरुग्राम, (मनप्रीत कौर ) गुरुग्राम सांस्कृतिक गौरव समिति के संस्थापक अध्यक्ष व हरियाणा कला परिषद के पूर्व निदेशक अजय सिंहल ने बताया कि खांडसा ग्राम स्थित एकलव्य तीर्थ में तेलंगाना से प्रत्येक जिले के 40 एकलव्य के वंशजों का एक दल एकलव्य तीर्थ में आया हुआ है। उनकी इस दो दिवसीय यात्रा में उनसे विस्तार में बातचीत हुई।
तेलंगाना प्रदेश अरुकुल संघम के प्रदेश अध्यक्ष कुताडी कुमार एस ने बताया कि एकलव्य हमारे पितामह हैं। एकलव्य ने गुरु शिष्य परंपरा का एक पवित्र उदाहरण प्रस्तुत किया है। वह हमारे आदर्श हैं। उनका दाहिने हाथ का अंगूठा इस पवित्र मिट्टी में दबा है।

अतः हम यहां की पवित्र मिट्टी ले जाकर हैदराबाद में एकलव्य जी के भव्य मंदिर की स्थापना करेंगे। उनके साथ आए सभी सदस्य श्रद्धा से ओतप्रोत थे और गुरुग्राम वासियों के लिए कृतज्ञता व्यक्त कर रहे थे कि उन्होंने इस स्मारक को संरक्षित एवं सुरक्षित रखा है।

गुरुग्राम सांस्कृतिक गौरव समिति के वर्तमान अध्यक्ष सुनील कुमार ने मकर सक्रांति के अवसर पर उन्हें एकलव्य तीर्थ की ओर से स्मृति चिन्ह भेंट किया एवं संपूर्ण समिति ने इस अवसर पर उनके दो दिवसीय रहन-सहन व खानपान की सुंदर व्यवस्था की। भाजपा युवा नेता अवनीष राघव, पार्षद उदयवीर अंजना, सुनील कुमार, शम्मी अहलावत, सब्बलू, सुरेंद्र शर्मा, नवल सिंह, मनजीत नंबरदार ,मनजीत राघव, सतपाल राघव, मुकुल चौहान,हरिज्ञान मित्तल आदि समिति के बंधुओं ने इस दल को पूरे गांव में भ्रमण कराया व उनके आने पर हार्दिक धन्यवाद दिया।

Leave your comment
Comment
Name
Email