राम भक्तों के लिए पर्व का दिन है 5 अगस्त : बोधराज सीकरी

राम भक्तों के लिए पर्व का दिन है 5 अगस्त : बोधराज सीकरी

bombay Jewellers

गुरुग्राम, (प्रवीन कुमार) : जहां एक और अयोध्या राम मंदिर भूमि पूजन की प्रथम वर्षगांठ को आयोजित करने में मगन है। वही श्री राम रूपी आत्मस्वरूप जो हर मानस के मन में विराजित है वो भी गदगद हो रहा है। आज ही के दिन 5 अगस्त 2020 को हमारे देश के यशस्वी प्रधानमंत्री जी ने मंत्रोच्चारण के बीच श्री राम मंदिर की जन्मभूमि में अपने कर कमलों द्वारा पूजन किया। उस समय पूरा विश्व आनंद में भी विभोर हो रहा था। क्योंकि हजारों लाखों श्रद्धालुओं की नहीं बल्कि असंख्य भक्तों की आस्था का प्रश्न था और 500 सालों के संघर्ष और बलिदानों का ही परिणाम था। सनातन धर्म में भगवान श्रीराम को मर्यादा पुरुषोत्तम कहां गया है। उन्हीं के आचरण को आत्मसात कर हमारे तेजस्वी और यशस्वी प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने मर्यादा मे रहकर माननीय सर्वोच्च न्यायालय द्वारा श्री राम जन्मभूमि पर मंदिर निर्माण के निर्णय को शिरोधार्य किया और विश्व भर में भगवान श्री राम के प्रति आस्था रखने वाले श्रद्धालुओं ने इसे स्वीकार किया और उत्सव मनाया। गोस्वामी तुलसीदास जी ने कहा है कि

नाम राम को कल्पतरु कलि कल्याण निवासु
जो सुमिरत भयो भांग ते तुलसी तुलसीदास।

भावर्थ :- कलयुग में प्रभु राम का नाम उस कल्पवृक्ष के समान है जो मनवांछित फल प्रदान करता है। इसके सुमिरन मात्र से ही भांग के समान तुलसीदास भी तुलसी के पवित्र हो गए।

आज राम मंदिर भूमि पूजन के वर्षगांठ पर श्री राम प्रभु की श्री राम प्रभु के प्रति आस्था रखने वालों में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा
राम मंदिर के मॉडल का पूजन किया और रामलला को पीले रेशमी वस्त्रों से सजाया गया। माननीय प्रधानमंत्री द्वारा भी इस शुभ अवसर पर प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के अंतर्गत गरीबों को मुफ्त राशन वितरण किया जाएगा।

Leave your comment
Comment
Name
Email