पंजाब विधानसभा में पास प्रस्ताव के खिलाफ प्रदेश भर में जिला स्तर पर रोष प्रदर्शन करेगी भाजपा : अरविंद सैनी

पंजाब विधानसभा में पास प्रस्ताव के खिलाफ प्रदेश भर में जिला स्तर पर रोष प्रदर्शन करेगी भाजपा : अरविंद सैनी

Viral Sach :- पंजाब विधानसभा में चंडीगढ़ स्थानांतरित करने के प्रस्ताव पर हरियाणा में राजनीतिक पारा लगातार चढ़ता दिखाई दे रहा है।  भारतीय जनता पार्टी ने अब इस प्रस्ताव के खिलाफ हरियाणा भर  में जिला स्तर पर रोष प्रकट करने का निर्णय लिया है।

हरियाणा भाजपा के प्रदेश मीडिया सह प्रमुख अरविंद सैनी ने बताया कि पंजाब विधानसभा में चंडीगढ़ को स्थान्तरित करने का जो गैर जरूरी और गैर वैधानिक प्रस्ताव पास किया गया है, उसे प्रदेश अध्यक्ष ओमप्रकाश धनखड़ ने गंभीरता से लेते हुए हर स्तर पर विरोध करने का फैसला लिया है। अरविंद सैनी ने बताया कि हरियाणा भाजपा के दोनों शीर्ष नेताओं मुख्यमंत्री मनोहर लाल और प्रदेश अध्यक्ष ओमप्रकाश धनखड़ इस मामले में अपनी कड़ी प्रतिक्रिया दे चुके हैं और अब पार्टी के कार्यकर्ताओं द्वारा भी सभी जिलों में रोष प्रकट कर ज्ञापन सौंपा जाएगा। अरविंद सैनी ने कहा कि चंडीगढ़ एक केंद्र शासित प्रदेश है, हरियाणा व पंजाब दोनों की राजधानी है।  चंडीगढ़ पर अकेले पंजाब का हक़ जताने का निंदनीय प्रस्ताव पारित करना गैर वैधानिक हैं। चंडीगढ़ पर हरियाणा का भी हक़ है और सदैव रहेगा। उन्होंने कहा कि पंजाब में आम आदमी पार्टी की सरकार ने हरियाणा का हक़ मारने की कोशिश की है। भाजपा मीडिया सह प्रमुख ने कहा कि हरियाणा भाजपा के कार्यकर्ता तो प्रदेश के हकों की लड़ाई लड़ ही रहे हैं, बल्कि अब हरियाणा के हर व्यक्ति को आम आदमी पार्टी की सरकार द्वारा पंजाब विधानसभा में पारित प्रस्ताव के खिलाफ अपने तरीके से आवाज उठानी चाहिए। अरविंद सैनी ने कहा कि हरियाणा सरकार चंडीगढ़ पर हरियाणा के हक के लिये दृढ़ संकल्पबद्ध है।

एसवाईएल पर भी अनेक झंझट व विभिन्न रुकावटों के बाद  सर्वोच्च न्यायालय का निर्णय हरियाणा के पक्ष में आ चुका है। अब केवल कैनाल का बनना शेष है। पंजाब की नई सरकार को तुरंत पंजाब क्षेत्र में एसवाईएल नहर का निर्माण कर हरियाणा के किसानों के हित का 19 लाख एकड़ फुट पानी देना चाहिए। हरियाणा लगातार 40 लाख एकड़ फुट पानी घाटा सहन कर रहा है।  पंजाब के किसान संगठनों ने भी आंदोलन के समय हरियाणा के किसानों के हक़ का पानी दिए जाने के पक्ष में अभिव्यक्ति की थी। लेकिन आम आदमी पार्टी हरियाणा का हित नहीं चाहती, इसलिए पंजाब में सरकार बनते ही आम आदमी पार्टी चंडीगढ़ को भी हरियाणा से छीनने की कोशिश में जुट गई है। अरविंद सैनी ने बताया कि प्रदेश अध्यक्ष ओमप्रकाश धनखड़ के दिशानिर्देशों के अनुसार भारतीय जनता पार्टी उक्त दोनों मुद्दों पर जन जागरण करेगी ।

Leave your comment
Comment
Name
Email