Politics

Bodhraj Sikri – चरैवेति, चरैवेति यही तो मंत्र है अपना, जीवन चलने का नाम चलते रहो सुबह-शाम

bodhraj sikri

 

Viral Sach : समाजसेवी Bodhraj Sikri की हनुमान चालीसा पाठ की मुहिम युवा वर्ग को संस्कारवान बनाने में अहम भूमिका निभा रही है।

श्री श्री 1008 स्वामी दिव्यानंद महाराज ने बोध राज सीकरी को फ़ोन पर इस नेक काम को करने के लिए अपना आशीर्वाद दिया। स्वामी जी ने बोधराज सीकरी से कहा कि वे अति शीघ्र गुरुग्राम आकर अपने गीता आश्रम, जो ज्योति पार्क, गुरुग्राम में स्थित है, उसमें भी हनुमान चालीसा के पाठ का आयोजन करेंगे। इस धार्मिक आयोजन में किसी उच्च कोटि के संत से ऐसा आशीर्वाद मिलने पर बोधराज सीकरी का मन गद्गद हो गया।

बता दें कि पिछले सप्ताह शनिवार को जो आयोजन हुआ था तब तक छः हज़ार से अधिक लोगों द्वारा 115000 पाठ हो चुके थे। कल मंगलवार 2 मई को सुशांत लोक सी.ब्लॉक, मेहंदी पार्क, में अनिल आरती यादव पार्षद, विष्णु खन्ना, प्रधान आर. डबल्यू.ए., दीपक वर्मा, महामंत्री आर. डबल्यू. ए. और संजय टण्डन, कोषाध्यक्ष आर.डबल्यू. ए.ने मिलकर हनुमान चालीसा रूपी यज्ञ किया।

 

bodhraj sikri

 

जिसमें आशा से अति अधिक लोग उपस्थित हुए । यद्यपि किसी अपरिहार्य कारण से संजय टण्डन खुद उपस्थित नहीं हो सके परंतु वे उत्तराखंड से निरंतर सम्पर्क बनाए हुए थे और जाने से पूर्व अपना उत्तरदायित्व निभा कर गए। विष्णु खन्ना और दीपक वर्मा जहां एक ओर यजमान बने, वहीं उन्होंने पूरी व्यवस्था का पूरा-पूरा ध्यान रखा।

अनिल यादव ने लोगों से आग्रह किया कि हर मंगलवार को सुशांत लोक के सभी मंदिरों में हनुमान चालीसा का पाठ नियमित रूप से होता है और सभी को वहाँ जाना चाहिए और लोगों को आश्वासन दिया कि बोधराज सीकरी की अगुवाई में इस प्रकार के आयोजन समय-समय पर होते रहेंगे।

दीपक वर्मा ने सभी का आभार प्रकट किया और प्रभु हनुमान की महिमा का व्याख्यान किया। आर. डबल्यू. ए. प्रधान विष्णु खन्ना ने बोधराज सीकरी का धन्यवाद किया और बताया कि नया गुरुग्राम भी भक्ति-रस में उनके साथ है।

 

bodhraj sikri

 

प्रभु हनुमान का रमणीक दरबार, बैठने की सुंदर व्यवस्था, अति स्वादिष्ट लंगर प्रसाद, भावपूर्ण गायकी से गजेंद्र गोसाईं द्वारा सामूहिक चार सौ से अधिक लोगों द्वारा 25-25 बार पाठ करके कुल 10000 पाठ किए गए। इस प्रकार अब तक 11वीं बैठक के साथ 125000 पाठ की संख्या हो चुकी है।

डेढ़ घंटे के पाठ के बाद बोध राज सीकरी ने हनुमान चालीसा के बहुत से रहस्य उजागर किए जैसे अतुलित बल धामा की परिभाषा, हनुमान चालीसा में पाँच बार “जय” शब्द क्यों आता है और उस “जय” का क्या तात्पर्य है आदि। उनके अनुसार एक-एक चौपाई एक-एक मंत्र है। इसमें सभी समस्याओं का समाधान है।

पुराने शहर से प्रमोद सलूजा, पंडित भीमदत्त, रमेश कामरा, किशोरी लाल, सुरेन्द्र बरेजा, रूपम चौधरी, मणिशंकर, मनोज तिवारी, आशीष मानेकर व मनीष नासा उपस्थित रहे। पंजाबी बिरादरी महा संगठन की महिला प्रकोष्ठ की ज्योति वर्मा और श्रीमती रचना बजाज ने अपनी हाज़िरी लगाई।

सुशांत लोक से राजीव छाबड़ा, सुरेश अग्रवाल, संघ के सुशील जी नगर कार्यवाहक, सरस्वती नगर, पी. एन. सिंह, सतीश चावला, मोहित, रमेश नरूला, खेर जी, डॉक्टर ए. के. नागपाल, प्रदीप अग्रवाल, संजीव बिष्ट, विजय दीवान, अजय भार्गव, बृज खुराना, दिनेश भारती, उमेश अरोरा, बी. एन. गुप्ता, ईश भयाना, डॉक्टर विजय, आनंद गुप्ता विद्यार्थी, अजीत मिश्रा उपस्थित रहे और संघ परिवार ने समस्त 400-500 लोगों के प्रसाद-भंडारा वितरण का उत्तरदायित्व निभाया।

इसके अतिरिक्त सुशांत लोक से महिला वर्ग की सराहनीय उपस्थिति रही, जिनमें मुख्यत: सुरेश सीकरी, उर्मिल खेर, सोनिया सचदेव, सीमा दीवान, रश्मि, अशिमा, पूनम, नीलम, सरिता खुराना आदि सेवा में सम्मिलित रहे।

Translated by Google

Viral Sach: The campaign of reciting Hanuman Chalisa by social worker Bodhraj Sikri is playing an important role in making the youth cultured.

Sri Sri 1008 Swami Divyananda Maharaj gave his blessings to Bodh Raj Sikri over phone for doing this noble cause. Swami ji told Bodhraj Sikri that he would come to Gurugram very soon and organize the recitation of Hanuman Chalisa in his Geeta Ashram, which is located in Jyoti Park, Gurugram. Bodhraj Sikri was overjoyed to receive such a blessing from a high-ranking saint in this religious event.

Let us tell you that by the time the event was held on Saturday last week, 115,000 lessons had been done by more than six thousand people. Tomorrow, Tuesday, May 2, in Sushant Lok C.Block, Mehndi Park, Anil Aarti Yadav Councilor, Vishnu Khanna, Pradhan R.K. WA, Deepak Verma, General Secretary R. W. A. and Sanjay Tandon, Treasurer R.W. A. together performed the Yagya in the form of Hanuman Chalisa.

In which more people attended than expected. Although Sanjay Tandon himself could not be present due to some unavoidable reason, but he was in constant contact with Uttarakhand and before leaving, he fulfilled his responsibility. While Vishnu Khanna and Deepak Verma became hosts on the one hand, they took full care of the entire arrangement.

Anil Yadav urged the people that on every Tuesday Hanuman Chalisa is recited regularly in all the temples of Sushant Lok and everyone should go there and assured the people that such events under the leadership of Bodhraj Sikri will be organized from time to time. But will continue to happen.

Deepak Verma expressed gratitude to everyone and lectured on the glory of Lord Hanuman. R. W. A. Pradhan Vishnu Khanna thanked Bodhraj Sikri and told that Naya Gurugram is also with him in Bhakti-rasa.

Delightful court of Lord Hanuman, beautiful seating arrangements, delicious langar prasad, soulful singing by Gajendra Gosain, a total of 10000 lessons were recited 25-25 times by more than four hundred people. Thus far, with the 11th meeting, the number of lessons has been 125000.

After one and a half hour lesson, Bodh Raj Sikri revealed many secrets of Hanuman Chalisa like definition of Atulit Bal Dhama, why the word “Jai” appears five times in Hanuman Chalisa and what is the meaning of that “Jai” etc. According to him, each chaupai is a mantra. It has solutions to all problems.

Pramod Saluja, Pandit Bhim Dutt, Ramesh Kamra, Kishori Lal, Surendra Bareja, Rupam Chowdhary, Mani Shankar, Manoj Tiwari, Ashish Manekar and Manish Nasa were present from the old city. Jyoti Verma and Mrs. Rachna Bajaj of the Women’s Cell of Punjabi Biradari Maha Sangathan marked their attendance.

Rajeev Chhabra from Sushant Lok, Suresh Agarwal, Sushilji Nagar caretaker of Sangh, Saraswati Nagar, P.N. Singh, Satish Chawla, Mohit, Ramesh Narula, Kherji, Dr. A.K. Of. Nagpal, Pradeep Aggarwal, Sanjeev Bisht, Vijay Dewan, Ajay Bhargava, Brij Khurana, Dinesh Bharti, Umesh Arora, B. N. Gupta, Ish Bhayana, Dr. Vijay, Anand Gupta Vidyarthi, Ajit Mishra were present and the Sangh Parivar took care of distribution of Prasad-Bhandara to all 400-500 people.

Apart from this, there was a commendable presence of women from Sushant Lok, mainly Suresh Sikri, Urmil Kher, Sonia Sachdev, Seema Dewan, Rashmi, Ashima, Poonam, Neelam, Sarita Khurana etc. were involved in the service.

Follow us on Facebook 

Follow us on Youtube

Read More News 

Shares:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *