Politics

Bodhraj Sikri – दूरदर्शी सोच के व्यक्ति हैं मुख्यमंत्री मनोहर लाल

 

Bodhraj Sikri

Viral Sach – गुरुग्राम : Bodhraj Sikri – पंजाबियत, रुहानियत, इंसानियत। इन तीन शब्दों में पंजाबियों का सार है। इन्हीं को अपने जीवन का ध्येय मनाकर पंजाबी समाज सर्वसमाज की भलाई के लिए काम करती है। विस्थापित होने के बाद खुद को स्थापित करके पंजाबियों ने अपना वर्चस्व बनाया है।

इसे कायम रखने के लिए हम सबको भविष्य में भी एकजुट रहना होगा। यह बात प्रसिद्ध उद्योगपति, वरिष्ठ भाजपा नेता एवं हरियाणा राज्य सीएसआर ट्रस्ट की प्रबंध समिति के उपाध्यक्ष बोधराज सीकरी ने कही।

 

Bodhraj Sikri

रविवार को यहां अशोक विहार फेज-3 पालम विहार ओम स्वीट्स के बधाई हॉल में बोधराज सीकरी के अलावा पंजाबी समाज के उन लोगों का अभिनंदन समारोह आयोजित किया गया, जिन्हें हरियाणा सरकार या संगठन मेमें किसी न किसी पद से नवाजा गया है।

ओम् स्वीट्स के ओम कथूरिया, केके गांधी और अनिल कुमार इस कार्यक्रम के संयोजक रहे। मंच संचालन अशोक शर्मा ने किया। इस मौके पर पूर्व मंत्री धर्मबीर गाबा ने भी पंजाबी समाज को एक होकर काम करने की बात कही, ताकि राजनीति में समाज और हर खेत्र में भागीदारी बढ़ सके। उन्होंने कहा कि वे चार बार गुडग़ांव से विधायक रह चुके है। यहां एकजुट पंजाबी समाज का ज्वलंत उदाहरण पेश करे।

 

bodhraj Sikri

 

बोधराज सीकरी ने धर्मबीर गाबा के वक्तव्य को रेखांकित करते हुए कहा कि उनके आशीर्वाद से पंजाबी बिरादरी भविष्य में एक होकर काम करेगी। राष्ट्र सर्वोपरि है। राजनीति में भागीदारी के लिए हर समाज को एकता के सूत्र में रहना जरूरी भी है।

श्री सीकरी ने कहा कि बिरादरी के लिए किसी भी तरह का योगदान देने के लिए वे सदैव तैयार हैं। उनका ध्येय पंजाबियत को आगे बढ़ाना है। समाज को एकजुट करना है। उन्होंने मुख्यमंत्री मनोहर लाल का अपनी नियुक्ति के लिए धन्यवाद करते हुए कहा कि वे दूरदशीज़् सोच के व्यक्ति हैं।

उन्होंने पंजाबी समाज को और सभी समाज को समन्वय से आगे बढ़ाया है। वे सभी बिरादरी का सम्मान करते हे। उन्होंने कहा कि समाज को एकजुट रखने वाला व्यक्ति ही समाज को, प्रांत को और राष्ट्र को आगे बढ़ा सकता है। कार्यक्रम में मौजूद सभी से उनका यही निवेदन है कि अपनी मजबूती को एकजुट होकर रहे ताकि राष्ट्र और मजबूत बना रहें। इस समारोह में गुरुग्राम के अलावा नूंह, रेवाड़ी, सोहना, फिरोजपुर झिरका आदि जगहों से भी पंजाबी बिरादरी के गणमान्य लोग पहुंचे थे।

अपने संबोधन में हरियाणा विद्युत बोर्ड के निदेशक एवं राज्यपाल जगदीश मुखी के पुत्र अतुल मुखी ने कहा कि हमें एक-दूसरे को आगे बढऩे में सहयोग करना है, ताकि बिरादरी को मजबूत कर सकें। संजय भसीन ने कहा कि पंजाबी समाज को आगे बढ़ता देख लोगों को परेशानी हो रही है। तथाकथित आंदोलन इसी का हिस्सा हैं।

अनुराग बख्शी ने कहा कि अगर पंजाबी बिरादरी को आगे बढ़ाना है तो हमें एक-दूसरे के सहयोग करने की भावना खुद में पैदा करनी होगी। कन्हैया लाल आर्य ने कहा कि पंजाबियत का दूसरा नाम पुरुषार्थ है। अपने बल पर हम मजबूत हुए हैं। धर्म-कर्म में हमारी सबसे अधिक भूमिका रहती है।

रश्मि खेत्रपाल ने महिला सशक्तिकरण की बात की और आग्रह किया की पंजाबी समुदाय को महिला को आगे लाना होगा। रमन मलिक ने बिरादरी को एक माला में बंधने की बात कही। डॉक्टर सुभाष खन्ना में पुरज़ोर एकता का कथन रखा और कहा की पंजाबी समुदाय सदा एक सूत्र में बंधने के लिए तत्पर हे।

समारोह में हरियाणा कला परिषद के निदेशक संजय भसीन, भाजपा प्रवक्ता रमन मलिक, अनुराग बख्शी, कन्हैया लाल आर्य, सुरेंद्र खुल्लर, पार्षद कपिल दुआ, पार्षद अश्वनी शर्मा, रामकिशन गांधी, लक्ष्मण पाहुजा, हरविंद कोहली, भारत भूषण गोगिया, प्रमोद सलूजा, एचएस चावला, सुभाष प्राचार्य, मनीष खुल्लर, धर्म सागर, बाल कृशन खत्री, देव राज आहूजा, काँवर भान वधवा आदि कई पंजाबी समुदाय के लोग एकत्र हुए l

Translated by Google 

Viral Sach – Gurugram: Bodhraj Sikri – Punjabiyat, spirituality, humanity. These three words sum up the essence of Punjabis. Punjabi society works for the betterment of the whole society by celebrating this as the aim of its life. Punjabis have established their supremacy by establishing themselves after being displaced.

To maintain this, we all have to remain united in the future as well. This was stated by renowned industrialist, senior BJP leader and Vice-Chairman of the Managing Committee of Haryana State CSR Trust, Bodhraj Sikri.

Apart from Bodhraj Sikri, a felicitation ceremony was organized here on Sunday at Badhaai Hall of Ashok Vihar Phase-3 Palam Vihar Om Sweets, besides those people of Punjabi society, who have been awarded one or the other position in the Haryana government or organization.

Om Kathuria, KK Gandhi and Anil Kumar of Om Sweets were the coordinators of the event. The stage was operated by Ashok Sharma. On this occasion, former minister Dharambir Gaba also told the Punjabi society to work unitedly, so that the participation of the society in politics and in every field could increase. He said that he has been an MLA from Gurgaon four times. Present a vivid example of united Punjabi society here.

Bodhraj Sikri, underlining the statement of Dharambir Gaba said that with his blessings the Punjabi fraternity will work unitedly in future. Nation is paramount. For participation in politics, it is also necessary for every society to remain united.

Shri Sikri said that he is always ready to contribute in any way for the fraternity. His aim is to take Punjabiyat forward. To unite the society. Thanking Chief Minister Manohar Lal for his appointment, he said that he is a far-sighted person.

He has taken the Punjabi society and all other societies forward in coordination. They all respect the fraternity. He said that only the person who keeps the society united can take the society, the province and the nation forward. It is his request to everyone present in the program to remain united in their strength so that the nation remains stronger. Apart from Gurugram, eminent people of Punjabi fraternity had also reached from places like Nuh, Rewari, Sohna, Firozpur Jhirka etc.

In his address, Atul Mukhi, director of Haryana Electricity Board and son of Governor Jagdish Mukhi, said that we have to cooperate with each other in moving forward, so that we can strengthen the fraternity. Sanjay Bhasin said that people are facing problems seeing the progress of Punjabi society. The so-called movement is a part of this.

Anurag Bakshi said that if the Punjabi fraternity has to move forward, then we have to inculcate the feeling of helping each other. Kanhaiya Lal Arya said that the second name of Punjabiyat is Purusharth. We have become strong on our strength. We play the most role in religious work.

Rashmi Khetrapal talked about women empowerment and urged that the Punjabi community must bring women forward. Raman Malik talked about tying the fraternity in a garland. Dr. Subhash Khanna made a strong statement of unity and said that the Punjabi community is always ready to bind in one thread.

Haryana Arts Council Director Sanjay Bhasin, BJP Spokesperson Raman Malik, Anurag Bakshi, Kanhaiya Lal Arya, Surendra Khullar, Councilor Kapil Dua, Councilor Ashwani Sharma, Ramkishan Gandhi, Laxman Pahuja, Harvind Kohli, Bharat Bhushan Gogia, Pramod Saluja, H.S. Chawla, Subhash Principal, Manish Khullar, Dharam Sagar, Bal Krishan Khatri, Dev Raj Ahuja, Kanwar Bhan Wadhwa etc. many people from Punjabi community gathered.

Follow us on Facebook 

Read More News 

Shares:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *