Gurugram

Bodhraj Sikri की हनुमान चालीसा पाठ की मुहिम ने पार किया 3 लाख 69 हजार का आंकड़ा

bodhraj sikri

 

Viral Sach: Bodhraj Sikri – कल मंगलवार दिनांक 10-10-2023 जहाँ एक ओर जी.ए.वी. इंटरनेशनल स्कूल, डी. एल.एफ.-III ने बोधराज सीकरी जी को आमंत्रित किया, वहीं शाम को गंगा गिरी कुटिया, बसई रोड पर लगभग 125 साधकों ने हनुमान चालीसा का पांच-पांच बार पाठ किया।

जी.ए.वी. इंटरनेशनल स्कूल में 200 विद्यार्थियों और 31 अध्यापिकाओं एवं स्टाफ द्वारा हनुमान चालीसा पाठ 11-11 बार हुआ। श्री प्रदीप कौशिक, चेयरमैन व मनीषा कौशिक एम.डी, जी.ए.वी. इंटरनेशनल स्कूल ने बोध राज सीकरी जी को न्योता दिया कि आकर हनुमान चालीसा पाठ के अतिरिक्त प्रेरणादायक सम्बोधन भी दें।

इसी प्रकार बोधराज सीकरी ने गंगा गिरी कुटिया में भी युवा बच्चों को हनुमान चालीसा के उपरांत प्रेरणादायक वक्तव्य सुनाकर युवा बच्चों में जीवन के प्रति नजरिए को सकारात्मक रूप से बदल दिया।

हास्य और व्यंग्य के माध्यम से अपनी बात रखते हुए उन्होंने कहा कि सदा प्रसन्न रहें। बोधराज सीकरी के कथनानुसार “हर मर्ज का इलाज नहीं दवाखाने में, कुछ मर्ज ठीक हो जाते मुस्कुराने में”

अगला मन्त्र था जीवन में निर्णायक बनने का। उन्होंने कहा कि हमें आलोचना को ठीक से स्वीकार करना चाहिए। विद्यार्थियों को हनुमान चालीसा अवश्य पढ़ना चाहिये क्योंकि उसमें बल, बुद्धि, विद्या मिलने का जिक्र है। विद्यार्थियों को धैर्यवान होना चाहिए। सफ़लता का अहंकार नहीं करना चाहिए।

बड़ों को अपना अनुभव युवाओं को साझा करना चाहिए और युवा को अपनी ऊर्जा राष्ट्र हित में देनी चाहिए। युवाओं को कर्मशील होना चाहिए – कर्म प्रधान विश्व रचि राखा। जो जस करहिं सो तस फल चाखा।

बोधराज सीकरी ने गीता के माध्यम से व रामरचित मानस से कई उदाहरण देकर बच्चों को जागरूक किया।

स्कूल प्रशासन की ओर से चेयरमैन प्रदीप कौशिक ने अपने सम्बोधन में जहाँ बोधराज सीकरी की कार्यशैली की भूरि-भूरि प्रशंसा की, वहीं उनके ज्ञान की भी सराहना की। उनका साथ दिया मनीषा कौशिक ने, बबिता वशिष्ठ, सहायक निदेशक ने व प्राध्यापिका स्वाति भट्टी ने।

गंगागिरी कुटिया आध्यात्मिक शांति का एक ज्वलन्त स्थान है। वहाँ पर प्रधान ब्रह्म कथूरिया के अतिरिक्त रमेश कुमार, चुन्नी लाल शास्त्री, लक्ष्मण जी व श्याम अदलखा सेवारत थे।

अन्य गणमान्य व्यक्तियों में धर्मेन्द्र बजाज, रामलाल ग्रोवर, रमेश कामरा, गजेन्द्र गोसाईं, किशोरी लाल डुडेजा, ओम प्रकाश गाबा, हेमंत मोंगिया, सतपाल नासा, धर्मपाल पाहुजा, सुखदेव, राजेन्द्र बजाज, अनिल कुमार, योगेश गंभीर, रूपम चौधरी ने उपस्थित हो आध्यात्मिक लाभ उठाया।

महिला प्रकोष्ठ की ओर से ज्योत्सना बजाज, शशि बजाज, पुष्पा नासा, निशी मोंगिया, रीटा, सिमरन बजाज, संतोष पाहुजा बहनें आनंद ले रही थी।

इसके अतिरिक्त जामपुर शिव मंदिर में 50 साधकों ने 5-5 बार पाठ किया और सुशांत लोक पार्क फ्लायर पार्क में 14 लोगों ने 5-5 बार पाठ किया। जी. ए. वी. स्कूल में 230 विद्यार्थियों ने 11 बार, गंगा गिरी कुटिया में 100 लोगों ने 5-5 बार, जामपुर शिव मंदिर में 50 साधकों ने 5-5 बार पाठ किया। बता दें कि कल कुल पाठ हुए – 3280, फ्लायर पार्क के 70 पाठ मिलाकर 3350 पाठ हुए।

अब तक मुहिम के तहत कुल स्थान हुए 134, कुल श्रद्धालु हुए 27243 और अभी तक के कुल पाठ का आंकड़ा 369948 पर पहुंच गया है।

Translated by Google

Viral Sach: Bodhraj Sikri – Tomorrow Tuesday 10-10-2023 where on one hand G.A.V. International School, D.L.F.-III invited Bodhraj Sikri Ji, while in the evening about 125 devotees recited Hanuman Chalisa five times at Ganga Giri Kutiya, Basai Road.

G.A.V. Hanuman Chalisa was recited 11 times by 200 students and 30 teachers and staff in the International School. Shri Pradeep Kaushik, Chairman and Manisha Kaushik MD, G.A.V. International School invited Bodh Raj Sikri ji to come and give an inspirational address in addition to reciting Hanuman Chalisa.

Similarly, Bodhraj Sikri also positively changed the outlook towards life among the young children by giving them inspirational speech after Hanuman Chalisa in Ganga Giri Kutiya.

Expressing his views through humor and sarcasm, he said to always be happy. According to Bodhraj Sikri, “Not every disease can be cured in a medicine, some diseases can be cured by smiling.”

The next mantra was to be decisive in life. He said that we should accept criticism properly. Students must read Hanuman Chalisa because it mentions getting strength, intelligence and knowledge. Students should be patient. One should not be proud of success.

The elders should share their experience with the youth and the youth should give their energy in the interest of the nation. Youth should be hardworking – Karma Pradhan Vishva Rachi Rakha. Whatever you do, you get the same results.

Bodhraj Sikri made the children aware through Geeta and by giving many examples from Ramcharit Manas.

On behalf of the school administration, Chairman Pradeep Kaushik, in his address, praised the working style of Bodhraj Sikri and also appreciated his knowledge. He was supported by Manisha Kaushik, Babita Vashishtha, Assistant Director and Professor Swati Bhatti.

Gangagiri Kutiya is a burning place of spiritual peace. Apart from Pradhan Brahm Kathuria, Ramesh Kumar, Chunni Lal Shastri, Laxman ji and Shyam Adlakha were serving there.

Other dignitaries included Dharmendra Bajaj, Ramlal Grover, Ramesh Kamra, Gajendra Gosain, Kishori Lal Dudeja, Om Prakash Gaba, Hemant Mongia, Satpal Nasa, Dharampal Pahuja, Sukhdev, Rajendra Bajaj, Anil Kumar, Yogesh Gambhir, Rupam Choudhary. Benefitted.

From the women’s wing, sisters Jyotsna Bajaj, Shashi Bajaj, Pushpa Nasa, Nishi Mongia, Rita, Simran Bajaj, Santosh Pahuja were enjoying.

Apart from this, 50 seekers recited 5-5 times in Jampur Shiv Mandir and 14 people recited 5-5 times in Sushant Lok Park Flyer Park. Yes. A. In V. School, 230 students recited it 11 times, in Ganga Giri Kutiya, 100 people recited it 5-5 times, in Jampur Shiv Mandir, 50 devotees recited it 5-5 times. Let us tell you that the total lessons done yesterday were 3280, including 70 lessons of Flyer Park, it was 3350 lessons.

Till now, the total number of places under the campaign has been 134, the total number of devotees has been 27243 and the total number of lessons so far has reached 369948.

Follow us on Facebook 

Follow us on Youtube

Read More News

Shares:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *