Politics

Bodhraj Sikri – होली हमारी संस्कृति की खूबसूरती और अपनत्व का अनुपम उदाहरण

bodhraj sikri

 

Viral Sach : सेक्टर 17 के ब्लिस प्रीमियर में ‘होली के रंग, कवियों के संग’ कार्यक्रम का भव्य आयोजन समाजसेवी व भाजपा कार्यकर्ता Bodhraj Sikri द्वारा किया गया। यह आयोजन गुरुग्राम के आकर्षण का केंद्र रहा, जिसमें लोकप्रिय नेतागण, कवि, समाजसेवी और उद्योगपति शामिल हुए |

बोधराज सीकरी ने कहा कि, हमारे तीज-त्योहार ही हमारी संस्कृति और परम्पराओं की खूबसूरती को प्रकट करने का सरलतम व उत्कृष्ट माध्यम हैं। होली हमारी संस्कृति की खूबसूरती और अपनत्व का अनुपम उदाहरण है। इसमें उपयोग होने वाले नाना प्रकार के रंग हमें अनेकता में एकता और आपसी भाईचारे की भावना का साक्षात अवलोकन कराते हैं।

उन्होंने कार्यक्रम में बतौर अतिथि के रूप में शामिल श्रीमती सुनीता दुग्गल (सांसद सिरसा लोकसभा, एक्स-आई.आर.एस), गोपाल कृष्ण अग्रवाल राष्ट्रीय प्रवक्ता (आर्थिक विषय) भाजपा, अम्मु सूरजपाल, अनिल यादव डिप्टी मेयर, व अन्य सम्मानित लोगों का आभार प्रकट किया।

साथ ही उन्होंने कवियों की वीर रस और हास्य रस की कविताओं की प्रस्तुति के लिए उनका आभार जताया और आयोजन को सफल बनाने में महत्वपूर्ण सहयोग करने वाले संगी साथियों का भी धन्यवाद किया।

बता दें कि ब्लिस प्रीमियर का प्रांगण लोगों से खचाखच भरा हुआ था। जहाँ लोगो में जोश था वही अनुशासन भी था। हर बिरादरी के लोग आनंद उठा रहे थे। कवियों ने अपनी शानदार प्रस्तुतियों से माहौल को उत्साह और खुशी के नवरंगों से सराबोर कर दिया। अचंभा तब हुआ जब बोध राज सीकरी ने ख़ुद काव्य पाठ किया। उनकी शेरों शायरी ने तालियों की आवाज़ से माहौल बदल दिया।

मंच पर उपस्थित कवियों और कार्यक्रम में पधारे अतिथियों का आभार जताते हुए बोधराज सीकरी ने होली के आध्यात्मिक व वैज्ञानिक महत्व पर अपने विचार रखे। उन्होंने कहा कि होली रंगों का उत्सव है, जी-जान से जीने का उत्सव है। आपसी भाईचारे को मजबूत करने का उत्सव है।

हमारे समाज में, हमारे साहित्य में हमारे सांस्कृतिक जीवन में होली के त्योहार का सर्वाधिक प्रभाव है किसी साहित्यकार की ऐसी कोई रचना नहीं होगी जहां कहीं ना कहीं होली के रंगों की चर्चा ना की गयी हो। इसलिए समाज के भावात्मक जगत के साथ यह रंगों का उत्सव पूरी तरह जुड़ चुका है।

देश का कोई कोना ऐसा नहीं होगा जहां होली का उत्सव ना मनाया जाता हो।

कवियों की विशेष प्रस्तुति के साथ-साथ होली के स्वादिष्ट व्यजनों की व्यवस्था भी उम्दा तरीके से की गई थी। सभी लोगों ने कार्यक्रम के सुव्यवस्थित और सुंदर आयोजन के लिए बोधराज सीकरी की जमकर प्रशंसा की।

सुनीता दुग्गल जी ने होली के महत्व की चर्चा की और गोपाल कृष्ण अग्रवाल ने राष्ट्र की उन्नति की बात की।

 

bodhraj sikri

 

एक अनुमान के अनुसार डेढ़ हज़ार से अधिक बोधराज सीकरी के शुभ चिंतक हर जाति वर्ग से उन्हें आशीर्वाद देने उपस्थित हुए।

इस अवसर पर नवीन गोयल (सह-संस्थापक कैनविन फाउंडेशन), ओमप्रकाश कथूरिया, प्रमोद सलूजा, संजय टंडन, धमेन्द्र बजाज, रामलाल ग्रोवर, किशोरी लाल डुडेजा, अभिषेक गुलाटी, श्रवण आहूजा, नितिन मलिक, कटारिया मंडल अध्यक्ष, डॉक्टर मनजीत, जतिंदर यादव, अनूप पार्षद, अनिल आरती पार्षद, अनिल यादव डिप्टी मेयर अशोक आज़ाद,अत्तर सिंह सिंधु, ज्योत्सना, शशि बजाज, रचना बजाज, ज्योति बजाज, एकता कामरा, अशोक आर्य, के ऐल आर्य, अशोक सीकरी, सुरेश सीकरी, शील सीकरी सोनिया सचदेव मीनू छाबड़ा, प्रवीण सीकरी, राजीव छाबरा, रमेश नरूला, सतीश चावला, राज कुमार कथूरिया, नरिंदर कथूरिया, अर्जुन नासा, अर्जुन कमरा, ओ पी कालरा, सतीश आहूजा, रमेश कालरा, पूनम भटनागर, रश्मि भूषण, सुभाष गांधी, रवि मिनोचा, रमेश कुमार, पारुल कुमार, अनिल कुमार, उमेश ग्रोवर, जय दयाल कुमार, अनिल मनचंदा, रमेश कुमार, अंशुल सीकरी, अभिनव सीकरी, दमन दीवान, अनिल आर्य, मुकेश सिंगला, अशोक डबास, स्वाति टंडन, सुभाष अरोड़ा, दीपक जैन, अशोक ग्रोवर, डॉ. अशोक दिवाकर, रमेश कामरा, राजेश सूटा, गिरिराज ढींगरा, धर्म सागर, सुरेंद्र खुल्लर, कंवरभान वधवा, रमेश चुटानी, के.के गोस्वामी, वीना अरोड़ा, गौरीशंकर, सतपाल नासा, प्रो. जगदीश मित्रा, प्रो.राजेश गुरुग्राम कालेज व अन्य हजारों की संख्या में लोग उपस्थित रहे।

Translated by Google 

Viral Sach: In the Bliss Premiere of Sector 17, a grand program ‘Holi Ke Rang, Kaviyon Ke Sang’ was organized by social worker and BJP worker Bodhraj Sikri. This event was the center of attraction of Gurugram, in which popular leaders, poets, social workers and industrialists participated.

Bodhraj Sikri said that our Teej festivals are the easiest and best medium to reveal the beauty of our culture and traditions. Holi is a unique example of the beauty and affinity of our culture. The different types of colors used in this give us a real overview of unity in diversity and the spirit of mutual brotherhood.

He included Mrs. Sunita Duggal (MP Sirsa Lok Sabha, Ex-IRS) as a guest in the program, Gopal Krishna Agarwal National Spokesperson (Economic Affairs) BJP, Ammu Surajpal, Anil Yadav Deputy Mayor, and other respected people. Expressed gratitude.

At the same time, he expressed his gratitude to the poets for the presentation of poems of Veer Ras and Hasya Ras and also thanked the fellow colleagues who contributed significantly in making the event a success.

Please tell that the courtyard of Bliss Premiere was full of people. Where there was enthusiasm among the people, there was also discipline. People of every community were enjoying. The poets drenched the atmosphere with colors of enthusiasm and happiness with their scintillating performances. The surprise happened when Bodh Raj Sikri himself recited the poem. His lion poetry changed the atmosphere with the sound of applause.

Expressing gratitude to the poets present on the stage and the guests who attended the programme, Bodhraj Sikri expressed his views on the spiritual and scientific importance of Holi. He said that Holi is a festival of colours, a festival of living life to the fullest. It is a festival to strengthen mutual brotherhood.

In our society, in our literature, in our cultural life, the festival of Holi has the most impact. That’s why this festival of colors is completely connected with the emotional world of the society.

There will not be any corner of the country where the festival of Holi is not celebrated.

Along with the special presentation of the poets, arrangements for the delicious Holi dishes were also made in a fine manner. Everyone praised Bodhraj Sikri for the systematic and beautiful organization of the program.

Sunita Duggal ji discussed the importance of Holi and Gopal Krishna Agarwal talked about the progress of the nation.

According to an estimate, more than one and a half thousand well-wishers of Bodhraj Sikri from every caste group appeared to bless him.

Naveen Goyal (Co-Founder Cannwin Foundation), Omprakash Kathuria, Pramod Saluja, Sanjay Tandon, Dharmendra Bajaj, Ramlal Grover, Kishori Lal Dudeja, Abhishek Gulati, Shravan Ahuja, Nitin Malik, Kataria Mandal President, Dr. Manjeet, Jatinder Yadav were present on the occasion. , Anoop Councilor, Anil Aarti Councilor, Anil Yadav Deputy Mayor Ashok Azad, Attar Singh Sindhu, Jyotsna, Shashi Bajaj, Rachna Bajaj, Jyoti Bajaj, Ekta Kamra, Ashok Arya, KL Arya, Ashok Sikri, Suresh Sikri, Sheel Sikri Sonia Sachdev Meenu Chhabra, Praveen Sikri, Rajeev Chhabra, Ramesh Narula, Satish Chawla, Raj Kumar Kathuria, Narinder Kathuria, Arjun Nasa, Arjun Kamra, OP Kalra, Satish Ahuja, Ramesh Kalra, Poonam Bhatnagar, Rashmi Bhushan, Subhash Gandhi, Ravi Minocha, Ramesh Kumar, Parul Kumar, Anil Kumar, Umesh Grover, Jai Dayal Kumar, Anil Manchanda, Ramesh Kumar, Anshul Sikri, Abhinav Sikri, Daman Dewan, Anil Arya, Mukesh Singla, Ashok Dabas, Swati Tandon, Subhash Arora, Deepak Jain, Ashok Grover, Dr. Ashok Diwakar, Ramesh Kamra, Rajesh Soota, Giriraj Dhingra, Dharam Sagar, Surendra Khullar, Kanwarbhan Wadhwa, Ramesh Chutani, KK Goswami, Veena A Roda, Gaurishankar, Satpal Nasa, Prof. Jagdish Mitra, Prof. Rajesh Gurugram College and thousands of other people were present.

Follow us on Facebook 

Read More News 

Shares:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *