Politics

Bodhraj Sikri – तीर्थ यात्रा आध्यात्म की ओर जाने का सुमार्ग

bodhraj sikri

 

Viral Sach : Bodhraj Sikri – मदनपुरी एवं अन्य स्थानों के लगभग 45 श्रद्धालुओं को गंगा स्नान तीर्थ हेतु जगदीश सचदेव द्वारा बोधराज सीकरी से आग्रह किया | जिसके फलस्वरूप तुरंत सीकरी जी ने तीर्थ यात्रियों के आने-जाने के दौरान जलपान व्यवस्था व हरिद्वार में निशुल्क दो दिन के लिए जामपुर भवन में रहने की सुन्दर व्यवस्था कर तीर्थ यात्रियों का मन जीत लिया | श्रद्धालु सीकरी जी को आशीष देते हुए फूले नहीं समा रहे है |

पहले भी सीकरी जी के माध्यम से हरिद्वार व वृन्दावन भेजा गया है | इसके अतिरिक्त अंधविद्यालय से छात्रों को भी तीर्थ पर भेज कर पुण्य कम चुके है | समय-समय पर तीर्थ यात्रा करने से दैनिक जीवन में चल रही परेशानियों से कुछ समय के लिए मुक्ति मिल जाती है।

मंदिर में आने वाले भक्तों के नकारात्मक विचार नष्ट होते हैं और सोच सकारात्मक बनती है। आमतौर पर अधिकतर प्राचीन तीर्थ और मंदिर ऐसी जगहों पर बनाए गए हैं, जहां का प्राकृतिक वातावरण हमारे स्वास्थ्य के लिए लाभदायक होता है।

प्राचीन संस्कृति को जानने का मौका मिलता है। मंदिर के पंडित और आसपास रहने वाले लोगों से संपर्क होता है, जिससे अलग-अलग रीति-रिवाजों को जानने का अवसर मिलता है। भगवान और भक्ति से जुड़ी मान्यताओं की जानकारी मिलती है। जिसका लाभ दैनिक जीवन की पूजा में मिलता है।

Translated by Google 

Viral Sach: Bodhraj Sikri – About 45 devotees from Madanpuri and other places were requested by Jagdish Sachdev to Bodhraj Sikri for Ganga Snan pilgrimage. As a result, Sikri ji immediately won the hearts of the pilgrims by making arrangements for refreshments during their arrival and free stay in Jampur Bhawan for two days in Haridwar. The devotees are elated while blessing Sikri ji.

Earlier too, it had been sent to Haridwar and Vrindavan through Sikri ji. Apart from this, the merit has also been reduced by sending students from blind schools on pilgrimage. Going on pilgrimage from time to time provides relief from the troubles of daily life for some time.

The negative thoughts of the devotees coming to the temple are destroyed and their thinking becomes positive. Generally, most of the ancient pilgrimages and temples have been built in such places, where the natural environment is beneficial for our health.

Get a chance to know the ancient culture. There is contact with the priest of the temple and the people living nearby, which gives an opportunity to know different customs. Information is available about beliefs related to God and devotion. Whose benefit is found in the worship of daily life.

Follow us on Facebook 

Follow us on Youtube

Read More News

Shares:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *