Politics

Bodhraj Sikri – गुरु गृह गए पढ़न रघुराई, अल्प काल विद्या सब पाई

bodhraj sikri

 

Viral Sach : Bodhraj Sikri – सुचेता मेमोरियल स्कूल, सेक्टर 5 के प्रांगण में बोधराज सीकरी समाजसेवी गुरुग्राम के द्वारा लिए गए संकल्प के तहत उनकी अगुवाई में सुचेता मेमोरियल स्कूल, सेक्टर 5 के निदेशक प्रधानाचार्य डॉ. सर्वेश सतीजा एवं कार्यकारी निदेशक श्रीमती प्रीतिका सतीजा की अध्यक्षता में स्कूल के लगभग 900 छात्र एवं 60 के करीब अध्यापक व अध्यापिकाओं और चालीस अभिभावक और पंजाबी बिरादरी महा संगठन के पदाधिकारियों के अतिरिक्त राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के महानगर संघचालक और विस्तारक द्वारा समारोह में अपना योगदान दिया गया।

सुचेता मेमोरियल विद्या प्रांगण में विद्या प्रारंभ समारोह एवं सुंदरकांड पाठ का आयोजन किया गया। यह आयोजन बेहद सफल और उद्देश्य पूर्ण रहा। जिसमें विद्यालय के निदेशक प्रधानाचार्य महोदय डॉ.सर्वेश सतीजा एवं कार्यकारी निदेशक श्रीमती प्रीतिका सतीजा का और वयोवृद्ध बलवंत सतीजा का विशेष योगदान रहा।

 

bodhraj sikri

 

इसके साथ ही सभी छात्र, छात्राओं, अध्यापक अध्यापिकाओं के साथ समन्वयक महोदय का भी विशेष योगदान रहा। साथ ही कार्यक्रम में कक्षा बारहवीं एवं दसवीं के बोर्ड में अच्छे अंको से उत्तीर्ण हुए छात्रों को सम्मानित और प्रोत्साहित किया गया तथा उन्हें अच्छे कार्यक्षेत्र में आगे बढ़ने के लिए प्रेरित किया गया।

मुख्य अतिथि बोधराज सीकरी, समाजसेवी की अगुवाई में और उनकी प्रेरणा से सुचेता मेमोरियल स्कूल में “सुंदरकांड पाठ “व “हनुमान चालीसा पाठ” का अत्यंत मनमोहक ढंग से आयोजन किया गया।

विद्या प्रारंभ समारोह में सर्वप्रथम “श्री सुंदरकांड “के पाठ का आयोजन हुआ तदोपरांत “श्री हनुमान चालीसा “पाठ का कार्यक्रम संगीतमय रूप से व भक्ति भाव से गजेंद्र गोसाई द्वारा सभी की उपस्थिति के साथ 11 बार किया गया, जोकि बहुत ही भव्य एवं दिव्य रूप में था।

 

bodhraj sikri

 

इसके पश्चात बोधराज सीकरी द्वारा जिन बच्चों ने विद्यालय में कक्षा 12वीं एवं 10वी की बोर्ड परीक्षाएं अच्छे अंकों से उत्तीर्ण की है, उन्हें सम्मानित किया गया तथा उन्होंने अपने उद्बोधन में बच्चों को शुभ संस्कारों से अवगत कराते हुए उन्हें किस तरह जीवन यापन करना है, समझाया व “श्री हनुमान चालीसा” एवं “तुलसी कृत श्रीरामचरितमानस” में छपे प्रसंगों से सभी को अवगत कराया। जिस समय बोधराज सीकरी का उद्बोधन चल रहा था, उस समय पंडाल खचाखच भरा था।

सभी ने करतल ध्वनि से बोधराज सीकरी का स्वागत किया। सभी ने उनके उद्बोधन और उनकी प्रतिभा की मुक्त कंठ से प्रशंसा की। जब उपस्थित पंडाल के लोगों को पता चला कि अब तक बोधराज सीकरी द्वारा चलाई गई इस मुहिम के तहत 1,47, 000 “श्री हनुमान चालीसा” के पाठ हो चुके हैं, तो उस समय पंडाल का माहौल कुछ ऐसा था कि करतल ध्वनि की आवाज चारों तरफ गूंज रही थी।

विद्यालय में सुंदरकांड का संगीतमय वाचन गायन वेद प्रकाश शर्मा एवं नरोत्तम शर्मा ने किया। साथ ही उन्होंने बहुत ही सरल और स्पष्ट रूप से बच्चों को भगवान राम एवं हनुमान के बारे में सुंदरकांड के परिप्रेक्ष्य में बताया।

आज के आयोजन के उपरांत 158000 पाठ हो चुके हैं। इसके पश्चात उन्होंने बताया कि “श्री हनुमान चालीसा का पाठ” जो कि 21 फरवरी 2023 से शुरू किया गया था, वह मेरे बाल्यकाल के मित्र गजेंद्र गोसाई और हम दोनों ही “श्री रामचरितमानस “का पाठ किया करते थे।

 

bodhraj sikri

 

उन्होंने बताया कि यह मेरा परम सौभाग्य है कि पूज्य चरण परमार्थ मूर्ति डॉ. स्वामी दिव्यानंद जी महाराज “भिक्षु”, गीता आश्रम, ज्योति पार्क जिन्होंने मुझे पिछले दिनों फोन करके आशीर्वाद दिया कि सीकरी जी जो आपने यह “श्री हनुमान चालीसा” के पाठ का संकल्प जिस कार्य हेतु किया है उसके लिए आप बधाई के पात्र हैं व मैं भी चाहूंगा कि आप इसी कड़ी में हमारे यहां भी “श्री हनुमान चालीसा” के पाठ का आयोजन करें।

बोधराज सीकरी ने शुभाशीष स्वरूप अपने विचारों को व्यक्त करते हुए बताया कि, सुचेता मेमोरियल विद्यालय में संस्कारों को बच्चों पर आरोपण नहीं किया जाता है, अपितु यहां पर बच्चों के मन में संस्कारों के बीज अंकुरित किए जाते हैं जिससे अच्छे संस्कारों से अंकुरित होकर बच्चे उज्ज्वल भविष्य की ओर अग्रसर होते हैं।

उन्होंने कहा कि मुझे आप सभी को यह बताते हुए हर्ष हो रहा है कि आज सुचेता विद्यालय के कार्यक्रम में सभी स्कूल के स्टाफ एवं सभी उपस्थित लोगों ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया विशेषकर इसमें सुरेंद्र खुल्लर, राम लाल ग्रोवर, पंडित भीम दत्त ज्योतिषाचार्य, रविंद्र खुल्लर, गजेंद्र गोसाई, डॉ अलका शर्मा (पूज्या पूनम माता जी की बेटी), धर्मेंद्र बजाज, रमेश कामरा, ओम प्रकाश कालरा, किशोरी लाल डूडेजा उपस्थित रहे अंत में सभी का यहां उपस्थित होने के लिए स्कूल की कार्यकारी निदेशक श्रीमती प्रीतिका सतीजा द्वारा धन्यवाद किया गया।

अंत में समन्वयक महोदय के आशीर्वाद स्वरुप छात्र-छात्राओं के उज्ज्वल भविष्य की कामना की गई तथा कार्यक्रम का समापन प्रसाद वितरण के साथ किया गया।

Translated by Google

Viral Sach : Bodhraj Sikri – In the premises of Sucheta Memorial School, Sector 5, under the resolution taken by Bodhraj Sikri social worker Gurugram, under the leadership of the Director of Sucheta Memorial School, Sector 5, Principal Dr. Sarvesh Satija and Executive Director Mrs. Preetika Satija. In addition to about 900 students of the school and about 60 teachers and teachers and forty parents and office bearers of the Punjabi Biradari Maha Sangathan, the Mahanagar Sanghchalak and Vistarak of Rashtriya Swayamsevak Sangh contributed to the ceremony.

Vidya Prarambh ceremony and Sunderkand recitation were organized at Sucheta Memorial Vidya Prangan. The event was very successful and purposeful. In which there was a special contribution of the school’s Director Principal Dr. Sarvesh Satija and Executive Director Mrs. Preetika Satija and veteran Balwant Satija.

Along with this, there was a special contribution of the coordinator along with all the students, teachers and teachers. Along with this, the students who passed with good marks in class 12th and 10th board were honored and encouraged in the program and they were motivated to move forward in a good field.

Under the leadership of Chief Guest Bodhraj Sikri, social worker and with his inspiration, “Sunderkand Path” and “Hanuman Chalisa Path” were organized in a very charming manner at Sucheta Memorial School.

In the Vidya Prarambh ceremony, the recitation of “Shri Sunderkand” was first organized, followed by the recitation of “Shri Hanuman Chalisa” 11 times musically and devotionally by Gajendra Gosai with the presence of all, which is a grand and divine form. I was in

After this, the children who have passed the class 12th and 10th board examinations in the school with good marks were honored by Bodhraj Sikri and in his address, he explained to the children how to lead a life by making them aware of the auspicious values. And informed everyone about the events published in “Shri Hanuman Chalisa” and “Tulsi Krit Shri Ramcharitmanas”. At the time Bodhraj Sikri’s speech was going on, the pandal was full.

Everyone welcomed Bodhraj Sikri with clapping sound. Everyone praised his speech and his talent with free voice. When the people present in the pandal came to know that till now 1,47, 000 “Shri Hanuman Chalisa” have been recited under this campaign run by Bodhraj Sikri, then the atmosphere of the pandal was such that the sound of Kartal sound It was echoing all around.

Ved Prakash Sharma and Narottam Sharma sang musical recitation of Sunderkand in the school. Along with this, he very simply and clearly told the children about Lord Rama and Hanuman from the perspective of Sunderkand.

After today’s event, 158000 lessons have been done. After this he told that “Shri Hanuman Chalisa recitation” which was started from 21 February 2023, my childhood friend Gajendra Gosai and we both used to recite “Shri Ramcharitmanas”.

He told that it is my great fortune that Pujya Charan Parmarth Murti Dr. Swami Divyanand Ji Maharaj “Bhikshu”, Geeta Ashram, Jyoti Park, who called me last days and blessed me that Sikri ji that you read this “Shri Hanuman Chalisa” You deserve congratulations for the work for which you have resolved and I would also like you to organize the recitation of “Shri Hanuman Chalisa” in our place in this episode.

Bodhraj Sikri expressed his views as auspiciousness and said that, in Sucheta Memorial School, rituals are not imposed on the children, but here the seeds of rituals are germinated in the minds of the children, so that the children sprout from good manners and become bright. Heading towards the future.

He said that I am happy to inform all of you that today in the program of Sucheta Vidyalaya, all the school staff and all the present people participated enthusiastically, especially Surendra Khullar, Ram Lal Grover, Pandit Bhim Dutt Jyotishacharya, Ravindra Khullar, Gajendra Gosai, Dr. Alka Sharma (Daughter of Pujya Poonam Mata ji), Dharmendra Bajaj, Ramesh Kamra, Om Prakash Kalra, Kishori Lal Dudeja were present. Finally thanks to everyone for being here by Mrs. Preetika Satija, Executive Director of the school to be done.

In the end, as a blessing of the Coordinator, the bright future of the students was wished and the program was concluded with Prasad distribution.

Follow us on Facebook 

Follow us on Youtube

Read More News 

Shares:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *