हरियाणा राज्य सीएसआर ट्रस्ट के उपाध्यक्ष  बोधराज सीकरी ने किया घर-घर दस्तक कोरोनारोधी टीकाकरण अभियान का शुभारंभ

हरियाणा राज्य सीएसआर ट्रस्ट के उपाध्यक्ष  बोधराज सीकरी ने किया घर-घर दस्तक कोरोनारोधी टीकाकरण अभियान का शुभारंभ

गुरुग्राम, (प्रवीन कुमार ) : राज्य कोविड वालिटियर्स समिति के सदस्य व हरियाणा राज्य सीएसआर ट्रस्ट के उपाध्यक्ष  बोधराज सीकरी ने घर-घर दस्तक कोरोनारोधी टीकाकरण अभियान के तहत डोर-टू-डोर अभियान का अर्जुन नगर गली नंबर 2 से शुभारंभ किया। इस अभियान के प्रथम दिन 84 लोगों का टीकाकरण किया गया तथा कोरोना से बचाव के लिए जागरुक भी किया। अभियान में सामाजिक कार्यकर्ता विकास आर्य, संजय टंडन, जीएल गौंसाई सहित सरकारी चिकित्सक व नर्स भी शामिल रहे।

राज्य कोविड वालिटियर्स समिति के सदस्य व हरियाणा राज्य सीएसआर ट्रस्ट के उपाध्यक्ष  बोधराज सीकरी ने बताया कि प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहरलाल के नेतृत्व में प्रदेश में 100 प्रतिशत टीकाकरण का लक्ष्य प्राप्त करने के लिए यह अभियान चलाया जा रहा है। गत दिवस हिसार के विधायक व समिति के संयोजक डा. कमल गुप्ता की अगुवाई में बैठक का आयोजन किया गया था, जिसमें भाजपा प्रदेशाध्यक्ष माननीय ओमप्रकाश धनखड़ शामिल हुए।

उन्होंने समिति के सदस्यों से आह्वान किया कि वे प्रदेश को कोरोनामुक्त करने के लिए डोर-टू-डोर अभियान चलाएं, जिसके तहत प्रत्येक व्यक्ति का टीकाकरण किया जाए। श्री सीकरी का कहना है कि टीकाकरण के साथ-साथ लोगों को कोरोना महामारी से बचाव के लिए भी जागरुक किया जाएगा। उनका कहना है कि प्रदेश की भाजपा सरकार मुख्यमंत्री मनोहरलाल की अगुवाई में प्रदेश को कोरोनामुक्त बनाने में जुटी हुई है।

जिसका परिणाम यह है कि आज प्रदेश में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या नगण्य ही रह गई है। उनका कहना है कि प्रदेश के चहुंमुखी विकास के लिए भी सरकार प्रतिबद्ध है। कोरोना काल के दौरान प्रदेश सरकार ने विकास कार्यों को थमने नहीं दिया। हर वर्ग और हर क्षेत्र का समान रुप से विकास किया तथा संकट के दौरान निशुल्क राशन वितरण, आर्थिक
रुप से सहायता की गई, ताकि लोगों को किसी भी प्रकार की समस्या का सामना न करना पड़े।

गौरतलब है कि राज्य कोविड वालिटियर्स समिति के सदस्य व हरियाणा राज्य
सीएसआर ट्रस्ट के उपाध्यक्ष  बोधराज सीकरी गुरुग्राम में कई वर्षों से
समाजसेवा के क्षेत्र में कार्यरत हैं और वे लगातार लोगों के बीच रहकर
उनकी समस्याओं के समाधान व सहायता करने के लिए प्रयासरत रहते हैं। कोरोना के समय में उन्होंने जहां शिविरों का आयोजन कर कोरोना जांच कराई, वहीं कोरोनारोधी दवा आने के बाद लगातार टीकाकरण शिविरों का आयोजन किया।

Leave your comment
Comment
Name
Email