निर्जला एकादशी के पावन पर्व पर पंजाबी बिरादरी महासंगठन द्वारा छबील एवं प्रसाद वितरण

निर्जला एकादशी के पावन पर्व पर पंजाबी बिरादरी महासंगठन द्वारा छबील एवं प्रसाद वितरण

Viral Sach : पंजाबी बिरादरी महा संगठन द्वारा निर्जला एकादशी के पावन पर्व पर बोधराज सीकरी, प्रधान, ओम प्रकाश कथूरिया, वरिष्ठ उप-प्रधान और रामलाल ग्रोवर, महासचिव एवं संगठन के अन्य सभी वरिष्ठ और कनिष्ठ पदाधिकारियों द्वारा गुरुग्राम शहर के निम्नलिखित विभिन्न स्थानो पर छबील और भण्डारे का आयोजन किया गया।

(1) कृष्ण मंदिर, 4/8, मरला (2) कृष्ण मंदिर, अर्जुन नगर (3) गीता भवन, न्यू कॉलोनी (4) श्याम मंदिर, न्यू कॉलोनी (5) सुशांत लोक, सी-ब्लाक, मेन गेट (6) पंचमुखी मंदिर, सेक्टर-7, एक्सटेंशन (7) चिंतपूर्णी मंदिर, ओल्ड रेलवे रोड (8) हनुमान मंदिर, मदनपुरी (9) राम मंदिर, प्रताप नगर (10) उदयभान देवी मंदिर, भीम नगर (11) ज्योति पार्क रोड (श्री राजकुमार कथूरिया जी का ऑफिस) (12) गंगा गिरी कुटिया, बसई रोड (13) सेक्टर-38 (आयोजक – श्री लोकेश आहूजा) (14) सेक्टर-23 (आयोजक-श्री यशवंत चुघ) (15) मंदिर श्री बाला जी (हनुमानजी) महाराज, शिवाजी नगर और 16) वाटिका सोसाययटी सेक्टर 49 में संगठन द्वारा शर्बत एवं भै-आलू प्रसाद का वितरण किया गया |

इस अवसर पर प्रधान बोध राज सीकरी ने कहा कि ऐसा माना जाता है कि जब गर्मी अपने पूरे यौवन पर होती है तो यह निर्जला एकादशी पर्व आता है, जिसके चलते लोग जगह-जगह पानी की छबील लगाते हैं और इस पर्व के बाद गर्मी का प्रकोप धीरे धीरे कम हो जाता है और गर्मी से लोगों को काफी राहत मिलती है |

संगठन के प्रधान बोध राज सीकरी जानकारी देते हुए बताया कि इस पर्व को भीमसेन एकादसी भी कहा जाता है l ऋषि व्यास जी ने साल की चौबीस एकादसी के मुक़ाबले यदि मात्र एक निर्जला एकादसी रखी जाए तो व्यक्ति को चौबीस एकादसी का पुण्य प्राप्त होता है। इस पुण्य के कार्य में संगठन के सभी कार्यकत्ताओं ने बढ़-चढ़ कर भाग लिया और सभी मंदिर में कोई न कोई पदाधिकारी पहुँचा हुआ था ताकि व्यवस्था को सूचारु रूप से चलाया जा सके।

Leave your comment
Comment
Name
Email