तीन दिवसीय प्लेस मेकिंग मैराथन का हुआ रंगारंग आगाज

तीन दिवसीय प्लेस मेकिंग मैराथन का हुआ रंगारंग आगाज

Viral Sach :- केन्द्रीय आवासन एवं शहरी मामलों के मंत्रालय की पहल के तहत तीन दिवसीय प्लेस मेकिंग मैराथन का गुरूग्राम में रंगारंग आगाज सोमवार से हो गया है। नगर निगम गुरूग्राम द्वारा सामुदायिक भागीदारी से सैक्टर-38 स्थित आनन्द पार्क का सौंदर्यकरण करके मात्र 75 घंटों में पार्क की सूरत बदली जाएगी।

नगर निगम गुरूग्राम की अतिरिक्त आयुक्त डा. वैशाली शर्मा के अनुसार केन्द्रीय आवासन एवं शहरी मामलों के मंत्रालय द्वारा दी गई चुनौती प्लेस मेकिंग मैराथन को गुरूग्राम ने स्वीकार किया है। यह स्मार्ट सिटीज मिशन के तहत एक पहल है और हिन्दुस्तान आजादी का अमृत महोत्सव मना रहा है। चुनौती के तहत शहर में एक या एक से अधिक सार्वजनिक स्थानों का सौंदर्यकरण किया जाना है। उन्होंने बताया कि प्लेस मेंकिंग का अर्थ स्थानों का निर्माण करना और लोगों व इन स्थानों के बीच के संबंधों को मजबूत करने के लिए सार्वजनिक स्थानों को बदलने पर ध्यान केंद्रित करना है। प्लेस मेकिंग लोगों और उनकी जरूरतों, आकांक्षाओं, इच्छाओं व दूरदर्शिता पर केंद्रित एक प्रक्रिया है, जो सामुदायिक भागीदारी पर दृढ़ता से निर्भर करती है।

डा. शर्मा ने बताया कि 21 से 23 मार्च तक 75 घंटे की अवधि में वार्ड-28 के सेक्टर-38 में स्थित आनन्द पार्क को बदलने की पहल की जा रही है। इसमें जन-केंद्रित पार्क बनाने के लिए विकास की सतत अवधारणाओं को शामिल किया जा रहा है। पार्क का नाम बदलकर आनन्द पार्क कर दिया जाएगा और बेहतर सार्वजनिक आकर्षणों के साथ इसका उदघाटन किया जाएगा। नगर निगम गुरूग्राम कुशल कचरा प्रबंधन के लिए इनसीटू वेस्ट-टू-कंपोस्ट गढ्ढे का निर्माण कर रहा है। पार्क में बैठने  के लिए नई जगह होगी और लोगों के लिए किताबें पढऩे व आपस में जुडऩे एवं बातचीत के लिए एक खुला पुस्तकालय स्थापित किया जाएगा। पार्क में हरियाली बढ़ाने के लिए पौधारोपण अभियान चलाकर क्षेत्र की सफाई करवाई जाएगी। इस क्षेत्र को एक महत्वपूर्ण लैंडमार्क में बदलने के लिए पार्क के झूलों, पेड़ों और अन्य क्षेत्रों पर पेंटिंग व रंगीन कलाकृतियां बनाई जाएंगी। साथ ही स्थाई परिवर्तन के लिए पार्क में फर्नीचर लगाए जाएंगे, जो वेस्ट से बने होंगे। पार्क के बेहतर उपयोग के लिए इसे और अधिक सुरक्षित बनाने के लिए नई लाईटें लगाई जाएंगी।

प्लेस  मेकिंग मैराथन के तहत तीनों दिन विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है, ताकि अधिक से अधिक नागरिक जुड़ें। इनमें जुंबा, नुक्कड़ नाटक, बैंड आदि शामिल हैं। इसके साथ ही स्वास्थ्य जांच जैसी गतिविधियां शामिल हैं व राहगिरी फाऊंडेशन की ओर से नागरिकों को सडक़ सुरक्षा क्षेत्र की जानकारी दी जा रही है। इस मैराथन में नगर निगम गुरूग्राम के नेतृत्व में डब्ल्यूआरआई इंडिया तकनीकी सहायता दी जा रही है। इसके साथ ही वार्ड पार्षद हेमन्त कुमार, कलाग्राम सोसायटी, आरडब्ल्यूए प्रतिनिधि व क्षेत्र के नागरिक इसमें पूर्ण रूप से शामिल हैं।

Leave your comment
Comment
Name
Email