गौतस्करों का समर्थन करके कांग्रेस ने कौमी एकता को कमज़ोर किया है : खुर्शीद रज़ाका

गौतस्करों का समर्थन करके कांग्रेस ने कौमी एकता को कमज़ोर किया है : खुर्शीद रज़ाका

Viral Sach : हरियाणा सरकार में मेवात डेवलपमेंट एजेंसी के पूर्व चेयरमैन खुर्शीद राजाका ने मेवात में कांग्रेस नेताओं द्वारा गौतस्करों के समर्थन में गत बुधवार को जिला प्रशासन से मिलकर गैर जिम्मेदारान भड़काऊ बयान का कड़ा विरोध किया है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के बड़े नेता गौहत्यारों को कानून के हवाले करने की बजाय उनके समर्थन में प्रदर्शन कर हरियाणा की अमन शांति को भंग कर रहे हैं जोकि एक शर्मनाक बात है। इतिहास गवाह है जब भी मुसलमान राष्ट्र की मुख्यधारा में शामिल होने के लिये आगे बढ़ा है, तो कांग्रेस ने मुस्लिम तुष्टिकरण की राजनीति करते अपना वोट बैंक बनाने के लिए पूरे मुस्लिम समाज को कट्टरता के अंधकार में धकेला है।

खुर्शीद राजाका ने बताया कि कांग्रेस ने पहले भी शाहबानों केस में सुप्रीम कोर्ट के निर्णय को पलटकर मुस्लिम कट्टरपंथीयों को खुश किया था। लेकिन आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री मनोहर लाल मेवात सहित देश के मुस्लिम समाज को तालीम, तरक्क़ी और रोजगार देकर उनको राष्ट्र की मुख्यधारा से जोड़ रहे हैं। जबकि कांग्रेस मुस्लिम को धार्मिक कट्टरता और गैरकानूनी धंधों से जोड़े रखने की औछी राजनीति कर रही है। आज मनोहर सरकार में मेवात में बिना रिश्वत व सिफारिश के मेरिट पर नौकरी मिलने के कारण बीजेपी सरकार के प्रति उनका विश्वास बढ़ रहा है। लेकिन कांग्रेस एक सुनियोजित तरीका से देश के भोले भाले मुसलमानों को रामनवमीं और हनुमान जयंती और गौतस्करी जैसे धार्मिक मुद्दों पर बहकाकर व भड़का कर अपना सियासी वजूद ढूंढ रही है। लेकिन अब जनता कांग्रेस के दोगलेपन को समझ चुकी है,इसलिये कांग्रेस को गौतस्करों के समर्थन करने के अपराध के लिये हिन्दू मुस्लिम समाज से माफी मांगनी चाहिये।

Leave your comment
Comment
Name
Email