Gurugram

Daulatabad राम नाम से हुआ गुंजायमान, निकली विशाल शोभा यात्रा

Daultabad

 

गुरुग्राम : अयोध्या धाम में बनने वाले राम मंदिर निर्माण के समर्थन में वीरवार को Daulatabad गांव में विशाल शोभायात्रा निकाली गई। यह यात्रा गांव के जोहड़ के पास सिथित हनुमान मंदिर से प्रारंभ होकर प्राचीन शिव मंदिर (शिवालय) पर समाप्त हुई। इस बीच यात्रा का जगह-जगह ढोल नगाड़ों, पुष्प वर्षा , आतिशबाजी से स्वागत किया गया।

दर्शकों का कहना था कि शोभायात्रा का स्वरूप इतना भव्य था कि श्रीराम 14 वर्षों का वनवास काटकर वापिस अयोध्या लोट रहें हो। इससे पूर्व किसी भी यात्रा में ऐसा जन सैलाब नहीं उमड़ा। कार सेवक रहे ब्रह्म प्रकाश कौशिक का कहना था कि यात्रा का अभूतपूर्व स्वागत किया। बच्चे, बूढ़े नोजवान, महिलाएं सभी में राम मंदिर निर्माण को लेकर जबरदस्त उत्साह बना हुआ था।

 

Daultabad

श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र समर्पण निधि अभियान के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए शहर में जगह-जगह शोभायात्रा, प्रभात फेरी, बैठकों का दौर चल रहा है। राम भक्त घर घर जाकर मन्दिर निर्माण के लिए समर्पण निधि एकत्रित कर रहें हैं। उसी के अंतर्गत आज दौलताबाद में शोभायात्रा का आयोजन किया गया।

यात्रा इतनी लंबी थी कि एक छोर से दूसरा छोर दिखाई नहीं दे रहा था।लग रहा था कि मानो पूरा दौलताबाद गांव ही उमड़ आया हो।सर्व समाज की उपस्तिथि से यात्रा को ओर भी सारगर्भित बना दिया।

 

Daultabad

गांव के सबसे बुजुर्ग व्यक्ति 105 वर्षीय रामप्रसाद जी, 90 वर्षीय फतेह सिंह जी का यात्रा में समल्लित होना युवाओं के लिए उत्साह वर्द्धक था।

यात्रा में गुरुग्राम व नुहुँ के अभियान को देख रहे हरीश शर्मा, शिवकुमार जी, राज सिंह जी, सतपाल सिंह , दीपक जांघू , सतनारायण जी, दौलताबाद गांव के सरपंच योगेंद्र (लीला) हरिशचंद्र जी, गांव के पूर्व सरपंच विरेंदर जी (डूंडाहेड़ा मंडल अध्यक्ष भाजपा) कारसेवक ब्रह्म प्रकाश कौशिक , गांव के नगर अभियान प्रमुख श्रीमान सुखदेव जी, महानगर अभियान सह- प्रमुख श्रीमान संजीव जी, योगिन्द्र जी (धर्मपुर ) मौजूद थे।

Translated by Google 

Gurugram: A huge procession was taken out in Daulatabad village on Thursday in support of the construction of the Ram temple to be built in Ayodhya Dham. The yatra started from the Hanuman temple situated near the Johar of the village and ended at the ancient Shiva temple (Shivalay). Meanwhile, the yatra was welcomed at various places with beating of drums, showering of flowers and fireworks.

Onlookers used to say that the form of the procession was so grand that Shriram was returning to Ayodhya after spending 14 years of exile. Before this, such a large number of people had not gathered in any yatra. Brahm Prakash Kaushik, who was a kar sevak, said that the yatra was welcomed unprecedentedly. There was tremendous enthusiasm among children, old men, women and everyone about the construction of the Ram temple.

To make people aware about Shri Ram Janmabhoomi Teerth Kshetra Samarpan Nidhi Abhiyan, processions, Prabhat Pheris and meetings are going on at various places in the city. Ram devotees are going door to door collecting dedication funds for the construction of the temple. Under the same, a procession was organized in Daulatabad today.

The yatra was so long that it was not visible from one end to the other. It seemed as if the entire village of Daulatabad had gathered. The presence of all the community made the yatra even more meaningful.

The participation of 105-year-old Ramprasad ji, 90-year-old Fateh Singh ji, the oldest person of the village, was encouraging for the youth.

Harish Sharma, Shivkumar ji, Raj Singh ji, Satpal Singh, Deepak Janghu, Satnarayan ji, Daulatabad village sarpanch Yogendra (Leela) Harishchandra ji, former village sarpanch Virender ji (Dundaheda Mandal President) watching the campaign of Gurugram and Nuhun in the yatra BJP) kar sevak Brahm Prakash Kaushik, Mr. Sukhdev ji, head of village campaign, Mr. Sanjeev ji, co-head of metropolitan campaign, Yogindra ji (Dharampur) were present.

Follow us on Facebook 

Read More News 

Shares:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *