Politics

6 गांव के किसानों ने किया Rao Inderjit का सम्मान

Rao Inderjit

 

Viral Sach – गुरुग्राम : केंद्रीय मंत्री Rao Inderjit का मानेसर के आसपास स्थित 6 गांव के किसान जनसभा कर सम्मान करेंगे। ग्रामीणों ने बताया कि उनकी अधिकृत भूमि के मोजे वापसी को लेकर उन पर नोटिस आ रहे थे और किसान मानसिक रूप से काफी पीड़ित थे।

केंद्रीय मंत्री राव इंद्रजीत सिंह ने किसानों को आर ए नोटिस ऊपर प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहर लाल से बात की और किसानों को समस्या से मुक्त करवाने में अहम भूमिका निभाई। केंद्रीय मंत्री के मिले सहयोग के लिए किसानों ने निर्णय लिया है कि वह केंद्रीय मंत्री का गांव में बुलाकर स्वागत करेंगे और उनका आभार प्रकट करेंगे।

मानेसर के आसपास स्थित गांव बांस हरिया, ढाणा, बांस कुसला, कासन, मानेसर आदि की जमीन को प्रदेश सरकार द्वारा अधिग्रहण कर लिया गया था। किसान भूमि अधिग्रहण के कम मुआवजा को बढ़ाने की मांग को लेकर हाईकोर्ट व सुप्रीम कोर्ट तक गए थे सर्वोच्च न्यायालय का फैसला किसानों के पक्ष में आ गया था, लेकिन तकनीकी कारणों सरकार उसे लागू नहीं कर रही थी।

सर्वोच्च न्यायालय के फैसले के बाद भी एचएसआईडीसी की ओर से कोर्ट में अपील की गई और किसानों को मुआवजा वापसी के नोटिस भेज दिए गए। किसानों ने नोटिस मिलने के बाद लोकसभा और विधानसभा चुनाव में बहिष्कार की घोषणा की थी लेकिन सांसद व केंद्रीय मंत्री राव इंद्रजीत ने उनसे मिलकर कहा कि वे मुख्यमंत्री से बात कर इस मामले को सुलझा कर किसानों की समस्या को दूर करेंगे।

चुनाव के बाद केंद्रीय मंत्री ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल से बात की और उन्हें पत्र भी लिखा और किसानों की समस्याओं को अवगत करवाते हुए मुआवजा वापसी के लिए किसानों के नोटिस को सरकार द्वारा वापस लेने की मांग भी की थी। केंद्रीय मंत्री का सहयोग निरंतर इस मामले में किसानों को मिला और किसानों के संघर्ष की जीत हुई।

ढाणा से समंदर सिंह, कासन के सरपंच सत्यदेव, कृष्ण कानूनगो, पूर्व सरपंच पहलाद, मानेसर से सूरत लंबरदार बलबीर मास्टर, रामपाल धनखड, सूर्यदेव नंबरदार, पूर्व सरपंच झुतर सिंह आदि ग्रामीण उपस्थित थे।

 

Rao Inderjit

 

Translated by Google 

Viral News – Gurugram: Farmers of 6 villages located around Manesar will honor Union Minister Rao Inderjit by holding a public meeting. The villagers told that notices were coming on them regarding the return of the socks of their authorized land and the farmers were suffering a lot mentally.

Union Minister Rao Inderjit Singh talked to the Chief Minister of the state Manohar Lal above the RA notice to the farmers and played an important role in getting the farmers free from the problem. For the cooperation received from the Union Minister, the farmers have decided that they will invite the Union Minister to their village and express their gratitude.

The land of villages Bans Hariya, Dhana, Bans Kusala, Kasan, Manesar etc. located around Manesar was acquired by the state government. The farmers had gone to the High Court and the Supreme Court demanding an increase in the low compensation for land acquisition. The decision of the Supreme Court had come in favor of the farmers, but the government was not implementing it due to technical reasons.

Even after the decision of the Supreme Court, an appeal was made by HSIDC in the court and notices for refund of compensation were sent to the farmers. After receiving the notice, the farmers had announced boycott of the Lok Sabha and Vidhansabha elections, but MP and Union Minister Rao Inderjit met them and told them that they would resolve the matter by talking to the Chief Minister and solve the problems of the farmers.

After the election, the Union Minister spoke to the Chief Minister Manohar Lal and also wrote a letter to him and apprised the problems of the farmers and also demanded the government to withdraw the notice given to the farmers for refund of compensation. The farmers got continuous cooperation from the Union Minister in this matter and the struggle of the farmers was won.

Samandar Singh from Dhana, Sarpanch Satyadev from Kasan, Krishna Kanungo, former Sarpanch Pahlad, Surat Lambardar Balbir Master from Manesar, Rampal Dhankhad, Suryadev Nambardar, former Sarpanch Jhutar Singh etc. villagers were present.

Follow us on Facebook 

Read More News 

Shares:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *