GRAP Rules का उल्लंघन करने वाले 232 व्यक्तियों पर लगा 25.52 लाख रूपए का जुर्माना

GRAP

 

Viral Sach : GRAP – नगर निगम गुरूग्राम क्षेत्र में ग्रेडिड रैस्पांस एक्शन प्लान (जीआरएपी) की उल्लंघना करने वालों पर लगातार कार्रवाई की जा रही है।

जीआरएपी के तहत प्रतिबंधित गतिविधियां करने वालों के चालान करने के साथ ही उन्हें आगाह भी किया जा रहा है कि वे प्रदूषण बढ़ाने वाली गतिविधियां ना करें।

इस बारे में जानकारी देते हुए नगर निगम गुरूग्राम की पर्यावरण एवं स्थिरता विंग के नोडल अधिकारी सुभाष यादव ने बताया कि निगम टीमों द्वारा अक्टूबर व नवम्बर माह में जीआरएपी के तहत प्रतिबंधित गतिविधियां करने वाले 232 व्यक्तियों के चालान करते हुए उन पर 25 लाख 52 हजार रूपए का जुर्माना लगाया है।

इनमें गार्बेज बर्निंग के मामले में 7 चालान, तंदूर जलाने के मामले में 32 चालान, मलबा डंपिंग के मामले में 35 चालान, धूल उड़ाने के मामले में 10 चालान, बिना पंजीकरण निर्माण जारी रखने के मामले में 2 चालान, बिना ढक़े बिल्डिंग मैटेरियल रखने के मामले में 107 चालान, प्रतिबंध के बावजूद निर्माण जारी रखने के मामले में 38 चालान तथा बिना ढक़े निर्माण सामग्री, मलबा एवं कचरा ट्रांसपोर्टेशन के मामले में 1 चालान शामिल है।

 

GRAP

 

श्री यादव ने बताया कि गुरूग्राम में प्रदूषण का स्तर सामान्य बनाए रखने के लिए नगर निगम गुरूग्राम द्वारा सडक़ों एवं पेड़ों पर पानी का छिडक़ाव किया जा रहा है। इसके लिए टैंकर, एंटी स्मॉग गन तथा फायर टैंडर नियुक्त किए गए हैं, जो अलग-अलग क्षेत्रों में सीवरेज ट्रीटमैंट प्लांट से शोधित पानी का छिडक़ाव कर रहे हैं।

सडक़ों की सफाई मैकेनाईज्ड करवाई जा रही है, ताकि धूल ना उड़े और प्रदूषण का स्तर ना बढ़े। उन्होंने गुरूग्राम के नागरिकों से आह्वान किया कि वे वायु गुणवत्ता प्रबंधन आयोग द्वारा लागू गे्रडिड रैस्पांस एक्शन प्लान के नियमों की पालना करें तथा दूसरों को भी इनका पालन करने के लिए कहें। अगर कोई नियमों की उल्लंघना करता है, तो उसे ऐसा करने से रोकें तथा नगर निगम को इसकी सूचना दें।

Translate by Google 

Viral News: Continuous action is being taken against those who violate the Graded Response Action Plan (GRAP) in the Municipal Corporation Gurugram area.

Along with challaning those doing prohibited activities under GRAP, they are also being warned not to do activities that increase pollution.

Giving information about this, Subhash Yadav, nodal officer of Environment and Sustainability Wing of Municipal Corporation Gurugram, said that 25 lakh 52 thousand rupees have been imposed on 232 persons by corporation teams for doing prohibited activities under GRAP in the month of October and November. fined.

These include 7 challans in case of garbage burning, 32 challans in case of burning tandoor, 35 challans in case of debris dumping, 10 challans in case of dust blowing, 2 challans in case of continuing construction without registration, keeping building material without cover. The case includes 107 challans, 38 challans in case of continuing construction despite ban and 1 challan in case of uncovered construction material, debris and garbage transportation.

Mr. Yadav told that in order to maintain normal level of pollution in Gurugram, water is being sprinkled on roads and trees by Municipal Corporation Gurugram. For this, tankers, anti-smog guns and fire tenders have been appointed, who are sprinkling treated water from sewerage treatment plants in different areas.

Mechanized cleaning of roads is being done so that dust does not rise and pollution level does not increase. He called upon the citizens of Gurugram to follow the rules of the Graded Response Action Plan implemented by the Air Quality Management Commission and asked others to follow them as well. If someone violates the rules, stop him from doing so and inform the Municipal Corporation about it.

Follow us on Facebook 

Read More News

Read Previous

Amit Goyal – फरूखनगर-सुल्तानपुर रेल यात्री संघ ने किया अमित गोयल का स्वागत

Read Next

Cannwin Foundation ने गुरुग्राम में शुरू की आईसीयू एम्बुलेंस व ब्लड ऐप

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular