गौशाला संचालन धर्म एवं सेवा का है कार्य - मेयर मधु आजाद

गौशाला संचालन धर्म एवं सेवा का है कार्य – मेयर मधु आजाद

Viral Sach :-  गुरूग्राम की मेयर मधु आजाद ने शुक्रवार को नगर निगम गुरूग्राम की गौशालाओं का संचालन करने वाली संस्था के प्रतिनिधियों एवं निगम व पशुपालन विभाग के अधिकारियों के साथ एक संयुक्त बैठक की तथा गौवंश के संरक्षण के लिए आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।

मेयर ने कहा कि गौशालाओं का संचालन करना धर्म एवं सेवा का कार्य है तथा गौवंश को सुरक्षित रखने की जिम्मेदारी हम सभी की है। उन्होंने नगर निगम गुरूग्राम की दोनों गौशालाओं नंदीधाम एवं कामधेनू का संचालन करने वाली संस्थाओं के प्रतिनिधियों से विस्तृत चर्चा की तथा दोनों गौशालाओं में रह रहे पशुओं के बारे में जानकारी ली। उन्होंने कहा कि कमजोर, बीमार एवं वृद्ध गौवंश का विशेष रूप से ध्यान रखा जाए तथा उनकी देखभाल की जाए। उन्होंने बैठक में उपस्थित पशुपालन विभाग के अधिकारियों से कहा कि वे चिकित्सकों की एक टीम बनाकर दोनों गौशालाओं का निरीक्षण करें तथा वहां पर जिन मैडीकल सुविधाओं की और आवश्यकता है, उसके बारे में रिपोर्ट तैयार करें, ताकि मैडीकल सुविधा को और अधिक बेहतर किया जा सके। इसके अलावा, समय-समय पर गौवंश के स्वास्थ्य की जांच की जाए तथा रोटेशन के आधार पर चिकित्सकों की ड्यूटी सुनिश्चित करें। पशुपालन विभाग के अधिकारियों ने बताया कि वे जल्द ही ये व्यवस्थाएं करेंगे। उन्होंने बताया कि अभी भी डॉक्टर ऑन कॉल की सुविधा है।

बैठक में नगर निगम गुरूग्राम की अतिरिक्त आयुक्त डा. वैशाली शर्मा, संयुक्त आयुक्त (मुख्यालय) डा. विजयपाल यादव सहित पशुपालन विभाग के अधिकारीगण व चिकित्सक, नंदीधाम एवं कामधेनू गौशाला, संगेल व सिलानी गौशालाओं का संचालन करने वाली संस्थाओं के प्रतिनिधि उपस्थित थे। सिलानी गौशाला संस्था के प्रतिनिधियों ने उनके यहां उपलब्ध करवाई जा रही सेवा के बारे में भी अपने अनुभव बैठक में सांझा किए।

Leave your comment
Comment
Name
Email