सरकार सार्वजनिक क्षेत्रों को बेचने में मस्त,पूंजीपति देश को लूटने में व्यस्त

सरकार सार्वजनिक क्षेत्रों को बेचने में मस्त,पूंजीपति देश को लूटने में व्यस्त

गुरुग्राम,(प्रवीन कुमार) : किसानों की माँगो के समर्थन में अनिश्चितकालीन धरने पर बैठे संयुक्त किसान मोर्चा गुरुग्राम के अध्यक्ष चौधरी संतोख सिंह ने बताया कि किसान आंदोलन के 110वें दिन किसान,मज़दूर तथा गुरुग्राम के विभिन्न सामाजिक संगठनों के प्रमुख व्यक्तियों ने तीन काले क़ानूनों, श्रम कानूनों,निजीकरण,पेट्रोल,डीज़ल तथा घरेलू गैस की बढ़ी क़ीमतों के विरोध में गुरुग्राम के रेलवे स्टेशन पर शांतिपूर्वक धरना प्रदर्शन किया अथवा तथा प्रधानमंत्री के नाम ज्ञापन तहसीलदार गुरुग्राम दर्शन सिंह कंबोज को सौंपा।

उन्होंने बताया कि तहसीलदार दर्शन सिंह कंबोज ने आश्वासन दिया है कि वो उनका ज्ञापन प्रधानमंत्री तक पहुँचा देंगे।

Farmer

धरने को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि सरकार सार्वजनिक क्षेत्रों को बेचने में मस्त है तथा पूंजीपति देश को लूटने में व्यस्त है।उन्होंने कहा कि निजीकरण से मज़दूरों का शोषण होगा और नौकरियों में छँटनी होगी तथा बेरोज़गारी बढ़ेगी।

कॉमरेड सतबीर सिंह ने धरने को संबोधित करते हुए कहा कि सरकार ने 44 श्रम क़ानून ख़त्म कर दिए हैं तथा चार कोड लागू कर दिए हैं जिससे मज़दूरों का शोषण होगा।उन्होंने कहा कि यह सभी क़ानून सरकार ने पूंजीपतियों को लाभ पहुँचाने के लिए बनाए हैं।

ऊषा सरोहा ने धरने को संबोधित करते हुए कहा कि पेट्रोल डीज़ल की क़ीमतें आसमान छू रही है।घरेलू गैस की क़ीमतें पिछले दो महीनों में ही बहुत ज़्यादा बढ़ गई है।

बलवान सिंह ने धरने को संबोधित करते हुए कहा कि तीनों काले क़ानून लागू होने से जमाखोरी बढ़ेगी तथा जमाखोरी से महँगाई बढ़ेगी।उन्होंने कहा कि सरकार की नीतियों सेआम जनता त्रस्त है तथा जनता में आक्रोश है।

आज धरना प्रदर्शन में शामिल होने वालों में अनिल पंवार,डाक्टर धर्मवीर राठी,योगेश्वर दहिया,तेज़ राम यादव,मुकेश डागर,जय सिंह पूनिया, कंवर लाल यादव,महिपाल सिंह यादव,अमित पंवार,राजबीर कटारिया,रमेश दलाल,मनीष मक्कड़,हरि सिंह चौहान,तनवीर अहमद,योगेन्द्र सिंह समसपुर,विजय लाकड़ा,आर सी हुड्डा,तारीफ़ सिंह,कृष्ण सिहाग,दयानंद शर्मा,योगेश कुमार, सतवीर गुर्जर,मुकेश यादव,आकाश यादव,सुरेन्द्रसिंह,दीनबंधु दत्ता तथा अन्य व्यक्ति शामिल हुए।

Leave your comment
Comment
Name
Email