दूध की धुली सरकार ने Cyber City को बनाया कचरा सिटी, लानत है ऐसी सरकार पर : पंकज डावर

pankaj davar

 

Viral Sach : Cyber City में सफाई कर्मचारियों के हड़ताल पर जाने से पूरे शहर में गंदगी फैल गई है। शहर में जगह-जगह कूड़े के ढेर लगे हुए हैं, यहां के विधायक हो मंत्री हो या प्रशासनिक अधिकारी सभी कार्यालयों के सामने भी कूड़े के लगे ढेर से लोग परेशान हैं, यह कहना है कांग्रेसी नेता पंकज डावर का।

पंकज डावर ने कहा कि इस सरकार ने साइबरसिटी को कचरा सिटी बना कर रख दिया है, ऐसी सरकार पर तो लानत है। पंकज डावर ने कहा कि सफाई कर्मचारी अपनी मांगों को लेकर अगर हड़ताल पर हैं, तो सरकार के पास इतने बड़े शहर की साफ-सफाई को लेकर वैकल्पिक व्यवस्थाएं क्यों नहीं है।

सरकार ने जिस चाइनीज कंपनी को शहर से कूड़ा उठाने का ठेका दे रखा है वह कंपनी आखिर ऐसी स्थिति में शहर की सफाई क्यों नहीं करवा रही है। इस सरकार ने अगर शहर के कूड़ा निस्तारण का ठेका किसी भारतीय कंपनी को दिया होता है तो शायद वह भारतीय कंपनी शहर में यह स्थिति पैदा नहीं होने देती, लेकिन यह तो दूध की धूली सरकार है इसे कौन क्या कहें।

पंकज डावर ने कहा कि इस सरकार में बीते 8 सालों से सरकारी तौर पर सफाई कर्मियों की भर्ती नहीं की जा रही है। सफाई का ज्यादातर कार्य ठेके पर है। अब ठेके पर कार्यरत कर्मियों के साथ भी सरकार दोगली नीति अपना रही है, जिससे कर्मचारी ठेके पर भी रहकर अपनी नौकरी नहीं कर पा रहे हैं, जिसके चलते आज कर्मचारी सरकार के खिलाफ सड़कों पर है और साइबर सिटी में काली दिवाली मना रहे हैं। अगर सरकार ने समय रहते, कर्मचारियों को पक्का कर दिया होता या फिर ठेके की बजाय इन कर्मचारियों को पक्की जॉब पर रखा होता तो शहर का यह हाल नहीं होता।

आम जनता तो इस बात से हैरान है कि जब यहां के विधायक सुधीर सिंगला के कार्यालय के सामने ही सड़कों पर कूड़ा फैला हुआ है और विधायक जी को नहीं दिखाई दे रहा है, यहां के निगम अधिकारियों के मकानों के सामने कूड़ा फैला हुआ है, उन अधिकारियों को जब कूड़ा नहीं दिखाई दे रहा है तो आम जनता आखिर इसकी शिकायत कहां करें, किससे करें।

आम जनता तो अब बस उस दिन का इंतजार कर रही है जब जनता को पावर मिले इस सरकार को उखाड़ फेंकने का और आम जनता अपना एकजुट मत देकर इस सरकार को उखाड़ फेंकने का काम करें।

पंकज डावर ने कहा कि आज छोटी दिवाली है कल बड़ी दिवाली। यह त्यौहार सफाई का प्रतीक है इस त्यौहार में लोग अपने दुकान मकान अपने क्षेत्र की साफ-सफाई करते हैं, जिससे कि सभी लोग खुश रहे और उनके क्षेत्र में उनके घर में उनके शहर में लक्ष्मी का वास हो। लेकिन यह सरकार तो शायद इस तरह की कामना ही नहीं करना चाहती तभी तो साइबर सिटी आज कचरा सिटी बन चुकी है।

पंकज डावर ने कहा कि आज जो सफाई कर्मचारी इस सरकार के खिलाफ सड़कों पर हैं और यह सरकार उनकी कोई सुनवाई नहीं कर रही है, शायद यह सरकार भूल गई की कोविड-19 के दौरान यही सफाई कर्मी कोरोना योद्धा बनकर देश के हीरो बने थे।

पूरे देश में सफाई कर्मियों का माला पहनाकर स्वागत किया गया था। इस सरकार ने भी सफाई कर्मियों को खूब बधाई दी थी। लेकिन अब यही सरकार इन योद्धाओं को अपना दुश्मन समझ रही है तभी तो इन योद्धाओं की सुनवाई यह सरकार नहीं कर रही है।

Translated by google 

Viral Sach: Due to the strike of sanitation workers in Cyber ​​City, there has been a mess in the entire city. There are heaps of garbage everywhere in the city, be it MLAs, ministers or administrative officers, people are troubled by the piles of garbage in front of all the offices, says Congress leader Pankaj Davar.

Pankaj Davar said that this government has turned cyber city into a garbage city, shame on such a government. Pankaj Davar said that if the sanitation workers are on strike for their demands, then why the government does not have alternative arrangements for the cleanliness of such a big city.

Why is the Chinese company which the government has given the contract to collect garbage from the city, why is the company not getting the city cleaned in such a situation. If this government has given the contract of garbage disposal to an Indian company, then perhaps that Indian company would not allow this situation to arise in the city, but it is a dusty government of milk, who can call it.

Pankaj Davar said that in this government for the last 8 years, the recruitment of sanitation workers is not being done officially. Most of the cleaning work is on contract. Now the government is adopting a double policy even with the contract workers, due to which the employees are not able to do their jobs even on contract, due to which today the employees are on the streets against the government and are celebrating black Diwali in cyber city. If the government had fixed the employees in time, or had kept these employees on permanent jobs instead of on contract, then this condition of the city would not have happened.

The general public is surprised that when the garbage is spread on the roads in front of the MLA Sudhir Singla’s office and the MLA is not visible, the garbage is spread in front of the houses of the municipal officers here. When the officials are not seeing the garbage, then where should the general public complain about it, to whom.

The general public is now just waiting for the day when the people get the power to overthrow this government and the common people should work to overthrow this government by giving their united vote.

Pankaj Davar said that today is a small Diwali, tomorrow is a big Diwali. This festival is a symbol of cleanliness, in this festival people clean their shop house, their area, so that everyone is happy and Lakshmi resides in their home in their area. But this government probably does not want to make such a wish, that is why the cyber city has become a garbage city today.

Pankaj Davar said that today the sanitation workers who are on the streets against this government and this government is not listening to them, perhaps this government has forgotten that during Kovid-19 these same sanitation workers became heroes of the country by becoming corona warriors.

Safai Karamcharis were welcomed with garlands across the country. This government had also congratulated the cleaning workers a lot. But now this government is considering these warriors as its enemies, only then this government is not listening to these warriors.

Follow us on Facebook 

Read more news

 

Read Previous

Disposal Association ने दिवाली मिलन में नवीन गोयल का चांदी मुकुट पहनाकर किया सम्मान

Read Next

Diwali पर उपहारों के साथ एक-एक पौधा भी दें : नवीन गोयल

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular