बंदूक की नोक पर कार लूटने वेक बदमाशों को गुरुग्राम पुलिस ने किया काबू

गुरुग्राम, (प्रवीन कुमार ) : मोड़ पर फरीदाबाद निवासी व्यक्ति के साथ गाड़ी की लूटपाट की शिकायत पर थाना डी.एल.एफ. फेस-1, गुरुग्राम की पुलिस ने कार्यवाही करते हुए
अपने गुप्त सुत्रों की सहायता से व अपनी समबुझ से उपरोक्त अभियोग में हथियार के बल पर गाङी छीनने की वारदात को अन्जाम देने वाले निम्नलिखित 03 शातिर बदमाशों को दिनांक 23.01.2021 को मथूरा टोल, उत्तर-प्रदेश से काबू करने में बङी सफलता हासिल कीः-

1. सहदेव सिंह पुत्र राम बहादुर सिंह निवासी गाँव मिर्जापुर, थाना माधौगढ, जिला जालौन, उत्तर-प्रदेश।

2. धीरेन्द्र पुत्र रामजीवन निवासी गाँव मिर्जापुर, थाना माधौगढ, जिला जालौन, उत्तर-प्रदेश।

3. दीपेश सिंह पुत्र राजकुमार निवासी गाँव रुरा, थाना रेहरेर, जिला जोलौन, उत्तर-प्रदेश।

आरोपियों को उपरोक्त अभियोग में नियमानुसार गिरफ्तार किया गया व दिनांक 24.01.2021 को माननीय आदालत के सम्मुख पेश करके 02 दिन के पुलिस हिरासत रिमाण्ड पर लिया गया।

आरोपियों से पुलिस पूछताछ में ज्ञात हुआ कि उक्त आरोपी सहदेव नोएडा में एक प्रोपर्टी डीलर/व्यापारी के पास नौकरी करता था। इस पर कर्जा होने के कारण इसने अपने उपरोक्त साथियों के साथ मिलकर नोएडा के प्रोपर्टी डीलर का अपहरण करके फिरौती मांगने की योजना बनाई। आरोपी सहदेव व आरोपी धीरेन्द्र एक ही गाँव के रहने वाले है तथा आरोपी दीपेश इनके पङोसी गाँव का रहने वाला है।

आरोपियों ने पुलिस पूछताछ में यह भी बतलाया कि इन्हें प्रापर्टी डीलर/व्यापारी का अपहरण करने के लिए एक गाङी की अवश्यता थी तो इन्होंने गाङी लूटने की योजना बनाई और योजनाअनुसार इन्होनें गुरुग्राम में उपरोक्त अभियोग की वारदात को अन्जाम दिया, किन्तु गुरुग्राम पुलिस की सतर्कता व कुशल कार्यप्रणाली के कारण ये प्रोपर्टी डीलर का अपहरण करने से पहले ही गुरुग्राम पुलिस के हत्थे चढ गए। आरोपियों द्वारा गाङी लूटने की वारदात को अन्जाम देने में प्रयोग किए गए हथियार को उपरोक्त आरोपी सहदेव कानपुर, उत्तर-प्रदेश से 30 हजार रुपयों में खरीदकर लाया था।

आरोपियों द्वारा उपरोक्त अभियोग में कार चालक को चोटें मारकर हथियार के बल पर कार चालक से छीनी गई 01 कार (स्वीफ्ट डिजायर), 01 पर्स (वैलेट), गाङी के कागजात, 01 लैपटॉप (छीनी गई गाङी में रखा हुआ था) व 01 चाँदी की चेन (कार चालक से आरोपियों ने छीनी थी) आरोपियों के कब्जा से पुलिस टीम द्वारा बरामद की गई है।

आरोपी धीरेन्द्र उपरोक्त के खिलाफ पहले भी लङाई-झगङे व अपहरण करने के माधवगढ व इन्दौर में अपराधिक मामले अंकित है।

सभी तीनों उपरोक्त आरोपी 02 दिन के पुलिस रिमाण्ड पर है, जिनसे अन्य वारदातों व अन्य साथी आरोपियों के बारे में गहनता से पूछताछ करते हुए उपरोक्त अभियोग की वारदात को अन्जाम देने में प्रयोग किया गया हथियार बरामद किया जाएगा। अभियोग अनुसंधानाधीन है

Read Previous

हरियाणा के इतिहास में पहली बार गुरूग्राम में नागरिक सुरक्षा विभाग में आया राष्ट्रपति उत्कृष्ट सेवा मेडल

Read Next

अंजलि राही की अध्यक्षता में आयोजित हुआ गुरुग्राम टैलेंट हंट

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Most Popular