राष्ट्रहित में काम करता है भारत-तिब्बत सहयोग मंच: अमित गोयल


Viral Sach :- भारत-तिब्बत सहयोग मंच के प्रान्त अध्यक्ष अमित गोयल ने कैथल में मंच के पदाधिकारियों, सदस्यों की बैठक ली। बैठक में उन्होंने दिशा-निर्देश दिए कि मंच जो मिशन लेकर चला है, उसकी मजबूती को हम सब जमीनी स्तर पर काम करें। हमें जो दायित्व मिला है या जो भविष्य में मिल सकता है, उसका सदा अच्छी प्रकार निर्वहन करें।

बैठक में प्रान्त मंत्री प्रवीण प्रजापति, कैथल जिला अध्यक्ष प्रदीप मित्तल ने अहम भूमिका निभाई। इस बैठक में निशांत अहलावत, गिरीश सिंघल, कुरुक्षेत्र से केवल कृष्ण, मेवा सिंह राणा, कैथल से दिनेश कुमार, जगवीर ङ्क्षसह, मनोज, राकेश, संजय गोयल, देवेंद्र शर्मा समेत कई सदस्य मौजूद रहे।
अमित गोयल ने कहा कि जिस विषय को लेकर मंच के मार्गदर्शन आगे बढ़ रहे हैं, वह हमारे देश हित, जनहित में है। हमें नि:संकोच देश हित के इस काम में अपनी आहुति देनी चाहिए। यह किसी व्यक्ति या संस्था का नहीं बल्कि पूरे देशवासियों को सुकून देने वाली बात होगी कि हमारा तिब्बत हमें मिल जाएगा।

इसके लिए बड़े स्तर पर काम किया जा रहा है। कुरुक्षेत्र, करनाल और कैथल से पहुंचे पदाधिकारियों, कार्यकर्ताओं से उन्होंने कहा कि वे देशहित में सदैव आगे रहें। देश हमें बहुत कुछ देता है, बात तब बने जब हम देश को कुछ दें। उन्होंने प्रदेश में जिला कार्यकारिणी गठित करने पर भी चर्चा की। साथ ही भविष्य की योजनाएं बताई। अमित गोयल ने बताया कि आगामी 16 व 17 मार्च को लखनऊ में राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक होगी। मंच के मार्गदर्शक इंद्रेश कुमार जी इस बैठक में मंच के मुद्दों से अवगत कराने के साथ आगामी रणनीति बताएंगे। अमित गोयल ने आगे कहा कि तिब्बत की आजादी-मानसरोवर की मुक्ति और भारत की सुरक्षा मंच का मुख्य उद्देश्य है। उन्होंने कहा कि इंद्रेश कुमार जी का संघर्ष जरूर रंग लाएगा। वे निष्पक्ष, नि:स्वार्थ होकर इस लड़ाई को लड़ रहे हैं। राह भले ही कठिन हो लेकिन जीत हम सबकी होगी। अमित गोयल ने उम्मीद जाहिर की कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में इस मुद्दों का भारत के पक्ष में हल होगा।

Read Previous

विधायक सुधीर सिंगला ने खेल मंत्री से पूछा…हॉकी मैदान में कब तक लगेगा एस्ट्रोटर्फ

Read Next

कवियों ने कविताओं से बताया कितना मजबूत हो गया है अपना भारत  

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Most Popular