Politics

Mangat Ram Bagdi – प्रॉपर्टी आईडी एवं टैक्स से संबंधित समस्याओं का शीघ्र होगा समाधान

Mangat Ram Bagdi

 

Viral Sach – गुरुग्राम नगर निगम वार्ड 10 के पूर्व Mangat Ram Bagdi व पार्षद शीतल बागड़ी ने शुक्रवार को गुरुग्राम के विधायक सुधीर सिंगला को मांग पत्र सौंपकर नागरिकों को भेजे जा रहे प्रॉपर्टी टैक्स नोटिस में की गई विभागीय गलतियों का सुधार नगर निगम के माध्यम से कराने की मांग की।

विधायक ने मौके पर ही फोन के माध्यम से निगमायुक्त से बात की। विधायक ने बताया की निगमायुक्त ने गलतियों के संबंध में अवगत करने को कहा है। प्रॉपर्टी आईडी एवं टैक्स से संबंधित जो भी समस्याएं होंगी उनका शीघ्र समाधान होगा।

मंगत राम बागड़ी व शीतल बागड़ी ने विधायक सुधीर सिंगला को सौंपे पत्र में उल्लेख किया है कि नगर निगम द्वारा वार्ड 10 में भेजे गए प्रॉपर्टी टैक्स के अधिकतर नोटिसों में कुछ न कुछ त्रुटि है। किसी के नोटिस में नाम गलत है तो किसी में पता। वहीं अधिकतर लोगों को निर्धारण से अधिक टैक्स के नोटिस भेजे गए हैं।

नागरिकों की शिकायत है मकानों के लिए जो नई आईडी तैयार की जा रही है उसके लिए नगर निगम द्वारा अधिकृत की गई एजेंसी द्वारा भारी भरकम सुविधा शुल्क की मांग की जा रही है। वहीं जो आईडी पहले से तैयार है उसमें मकानों और प्लाटों का एरिया हकीकत से अधिक दिखा दिया गया है।

अगर किसी के 65 और 78 वर्ग गज के मकान है तो उन्हें 68.55 और 86.75 वर्ग गज दिखा दिया गया है। इस तरह की गलतियां अनेकों आईडी में हैं। इसके कारण ऐसे लोगों का प्रॉपर्टी टैक्स अधिक निर्धारित हो गया है। इस गलती के कारण लोग प्लाटों की खरीद-बिक्री भी नहीं कर पा रहे हैं। कुछ मकानों की आईडी में लोकेशन और मैप गलत दिखाया गया है।

इसके कारण रास्ते और अन्य सार्वजनिक स्थान शो नहीं करते हैं और लोगों को अपने मकान किसी दूसरे को बेचने में भी परेशानी हो रही है। इन त्रुटियों के कारण लोगों का प्रॉपर्टी टैक्स बकाया पड़ा है और नो ड्यूज न मिलने के कारण उनके जरूरी से जरूरी काम रुके पड़े हैं।

नागरिक जब टैक्स संबंधी सुधार कराने के लिए नगर निगम कार्यालय पहुंच रहे हैं तो उनकी बात नहीं सुनी जा रही है। पूरे दिन लोग सुधार के लिए नगर निगम कार्यालय पर डटे रहते हैं फिर भी काम नहीं हो पाता है और शाम को बिना काम कराए वापस लौटना पड़ता है। अधिकतर लोग नौकरी पेशा वाले हैं, इसलिए उनकी अनुपस्थिति में महिलाओं को भी सुधार कराने के लिए कार्यालय पर भटकना पड़ता है।

वहीं कर्मचारियों द्वारा लोगों से यह कहा जा रहा है कि जब तक गलतियों का सुधार नहीं होगा तब तक टैक्स नहीं जमा हो सकता। बागड़ी ने विधायक को बताया कि वार्ड के नागरिकों द्वारा शिकायत की जा रही है कि प्रॉपर्टी टैक्स के नोटिसों में गलती सुधारने के लिए भी उनसे सुविधा शुल्क की मांग की जा रही है जो बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है।

इससे नगर निगम और सभी पार्षदों के साथ सरकार की छवि भी खराब हो रही है। वहीं आम नागरिक इसको लेकर काफी परेशान हैं। यह समस्या किसी एक वार्ड की नहीं है बल्कि अधिकतर वार्डों की है। बागड़ी ने मांग रखी कि इसे देखते हुए जनहित में तत्काल इस समस्या का समाधान किया जाए। उन्होंने यह भी मांग रखी कि सुधार के लिए सभी वार्डों में नगर निगम के कर्मचारी लगाए जाएं जो पार्षदों की देखरेख में इन गलतियों का सुधार कर सकें।

मांग पत्र सौपते समय उनके साथ पूर्व डिप्टी मेयर परमिंदर कटारिया, लेफ्टिनेंट कर्नल वेद प्रकाश, मूल चंद शर्मा, गौरव जैन, संतोष कुमार सिंह व अन्य मौजूद रहे। उन्होंने विधायक सुधीर सिंगला से कहा कि वार्ड 10 की समस्याओं के समाधान में आप समय-समय पर महत्वपूर्ण योगदान निभाते रहे हैं।

इसके लिए हम आपको हृदय से धन्यवाद देते हुए आपसे विनम्र आग्रह करते है कि इस विकट समस्या का भी समाधान नगर निगम के माध्यम से कराने की कृपा करें। विधायक ने इसे गंभीरता से लेते हुए शीघ्र समाधान कराने का आश्वासन दिया।

Mangat Ram Bagdi

Translated by Google 

Viral Sach – Mangat Ram Bagdi and councilor Sheetal Bagdi, former Gurugram Municipal Corporation Ward 10, handed over a demand letter to Gurugram MLA Sudhir Singla on Friday to rectify the departmental mistakes made in the property tax notice being sent to the citizens through the Municipal Corporation. demanded.

The MLA spoke to the corporator through phone on the spot. The MLA told that the corporator has asked to inform about the mistakes. Any problems related to property ID and tax will be resolved soon.

Mangat Ram Bagdi and Sheetal Bagdi have mentioned in the letter submitted to MLA Sudhir Singla that most of the property tax notices sent by the Municipal Corporation in Ward 10 have some error or the other. In someone’s notice the name is wrong and in some the address is wrong. At the same time, most of the people have been sent notices of tax exceeding assessment.

Citizens complain that for the new ID being prepared for the houses, a huge facility fee is being demanded by the agency authorized by the Municipal Corporation. On the other hand, in the ID that is already prepared, the area of houses and plots has been shown more than the reality.

If someone has houses of 65 and 78 square yards, then they have been shown 68.55 and 86.75 square yards. Such mistakes are there in many IDs. Due to this, the property tax of such people has been fixed more. Due to this mistake, people are not even able to buy and sell plots. The location and map are wrongly shown in the ID of some houses.

Due to this the roads and other public places do not show and people are also facing difficulty in selling their houses to others. Due to these errors, property tax of the people has been arrears and due to non-receipt of no dues, their most important work has been stopped.

When the citizens are reaching the Municipal Corporation office for tax related reforms, they are not being listened to. Whole day people stay at the municipal office for improvement, still the work is not done and they have to return in the evening without getting the work done. Most of the people are employed, so in their absence women also have to wander to the office to get rectified.

On the other hand, people are being told by the employees that till the mistakes are not rectified, the tax cannot be deposited. Bagdi told the MLA that the residents of the ward are complaining that facility fee is being demanded from them even for correcting mistakes in property tax notices, which is very unfortunate.

Due to this, the image of the government along with the municipal corporation and all the councilors is getting tarnished. At the same time, the common citizens are very worried about this. This problem is not of any one ward but of most of the wards. Bagdi demanded that in view of this, this problem should be solved immediately in the public interest. He also demanded that municipal corporation employees should be appointed in all the wards to rectify these mistakes under the supervision of councillors.

Former Deputy Mayor Parminder Kataria, Lt. Col. Ved Prakash, Mool Chand Sharma, Gaurav Jain, Santosh Kumar Singh and others were present with him while handing over the demand letter. He told MLA Sudhir Singla that you have been playing an important role from time to time in solving the problems of Ward 10.

For this, we thank you from the bottom of our heart and humbly request you to please solve this critical problem through the Municipal Corporation. Taking it seriously, the MLA assured for a quick solution.

Follow us on Facebook 

Follow us on Youtube

Read More News

Shares:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *