Politics

Mayor Madhu Azad ने प्रोजैक्ट ई-परिवर्तन के तहत विशेष कैंप का किया शुभारंभ

Mayor Madhu Azad

Viral Sach – गुरूग्राम की Mayor Madhu Azad ने वीरवार को सैक्टर-42 स्थित नगर निगम कार्यालय में प्रोजैक्ट परिवर्तन के तहत आयोजित विशेष कैंप का शुभारंभ किया।

उनके साथ नगर निगम गुरूग्राम के आयुक्त मुकेश कुमार आहुजा व अतिरिक्त आयुक्त डा. वैशाली शर्मा उपस्थित रहे। कैंप में 100 व्यक्तियों ने ई-थ्री व्हीलर के लिए अपना पंजीकरण करवाया।

इस अवसर पर मेयर ने कहा कि हरियाणा सरकार की महत्वकांक्षी योजना ई-परिवर्तन के तहत नगर निगम गुरूग्राम, जिला प्रशासन गुरूग्राम, ट्रैफिक पुलिस गुरूग्राम व यातायात विभाग गुरूग्राम द्वारा पुराने डीजल-पैट्रोल थ्री-व्हीलर को इलैक्ट्रोनिक थ्री व्हीलर में बदलने के लिए तेजी से कार्य किया जा रहा है।

 

Mayor Madhu Azad

इसके तहत प्रथम चरण में नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल के आदेशों की पालना में 10 वर्ष पुराने डीजल थ्री-व्हीलर को ई-थ्री व्हीलर में बदलने के लिए सैक्टर-42 स्थित नगर निगम कार्यालय में विशेष कैंप का आयोजन किया गया है।

उन्होंने कहा कि वीरवार को प्रोजैक्ट ई-परिवर्तन की वैबसाईट को भी लांच किया गया है तथा सिंगल विंडो सिस्टम के माध्यम से नागरिकों को पूरी सहायता एवं जानकारी उपलब्ध करवाई जा रही है।

उन्होंने कहा कि प्रोजैक्ट ई-परिवर्तन के तहत हैल्पलाईन नंबर 9821395225 पर संपर्क करके पूरी जानकारी एवं सहायता प्राप्त की जा सकती है। मेयर ने घोषणा की कि नगर निगम गुरूग्राम द्वारा तीन स्थानों पर स्थापित चार्जिंग स्टेशनों पर नि:शुल्क चार्जिंग की व्यवस्था की गई है।

ये चार्जिंग स्टेशन सैक्टर-42 निगम कार्यालय, सैक्टर-29 फायर स्टेशन तथा सैक्टर-27 सामुदायिक केन्द्र में स्थापित किए हुए हैं। मेयर ने अधिकारियों के साथ ई-थ्री व्हीलर की सवारी भी की।

नगर निगम गुरूग्राम के आयुक्त मुकेश कुमार आहुजा ने कहा कि एनजीटी द्वारा गुरूग्राम सहित दिल्ली-एनसीआर क्षेत्र में 10 वर्ष पुराने डीजल वाहनों तथा 15 वर्ष पुराने पैट्रोल वाहनों को 1 अप्रैल से प्रतिबंधित कर दिया गया है।

प्रोजैक्ट ई-परिवर्तन के तहत गुरूग्राम में पुराने डीजल ऑटो को ई-ऑटो में बदलने की दिशा में तेजी से कार्य किया जा रहा है। ई-वाहन पर भारत सरकार की फेम-2 योजना के तहत सबसिडी दी जा रही है तथा पुराने ऑटो को अधिकृत स्क्रैप डीलर से स्क्रैप करवाने पर नगर निगम गुरूग्राम द्वारा भी 30 हजार रूपए की सबसिडी दी जा रही है।

उन्होंने कहा कि ई-ऑटो निर्माता कंपनियों द्वारा भी 31 मार्च तक प्रत्येक ई-ऑटो पर 20 हजार रूपए का डिस्काऊंट दिया जा रहा है। उन्होंने ई-व्हीकल को अपनाने का आह्वान किया तथा कहा कि पर्यावरण प्रदूषण को कम करने में ई-व्हीकल का महत्वपूर्ण योगदान है तथा आने वाला समय भी ई-व्हीकल का ही है।

कैंप में सुप्रीम स्मार्ट पावर कंपनी का ई-थ्री व्हीलर ऑटो चालकों के लिए आकर्षण का केन्द्र रहा। इसके अलावा, जिंगो, सारथी, शिघन, जांगिड़, बैक्सी, कायनेटिक ग्रीन, नन्दी, पियाज्यो, गोल्डन व स्मार्ट-ई के स्टॉल का ऑटो चालकों ने अवलोकन किया। कैंप में जिकु मोटर्स के स्टॉल पर भी लोगों ने जानकारी ली।

यह कंपनी पुरानी गाडिय़ों को ई-व्हीकल में बदलने का कार्य करती है। कैंप में मारूति सुजुकी टोयोत्सु व महिन्द्रा के स्क्रैप डीलर तथा चार्जिंग स्टेशन स्थापित करने वाली कंपनियों के स्टॉल भी लगाए गए।

कैंप में लीड बैंक मैनेजर प्रहलाद राय गोदारा के नेतृत्व में आईसीआईसीआई बैंक, सर्व हरियाणा ग्रामीण बैंक, जेएंडके बैंक, केनरा बैंक, एचडीएफसी बैंक, यूनियन बैंक, एक्सिस बैंक, पंजाब नेशनल बैंक, यूको बैंक, स्टेट बैंक ऑफ इंडिया, सैंट्रल बैंक ऑफ इंडिया, कर्नाटका बैंक, इंडियन ओवरसीज बैंक के प्रतिनिधि उपस्थित रहे तथा ई-ऑटो पर दी जाने वाली लोन सुविधा के बारे में ऑटो चालकों को जानकारी दी।

इस मौके पर निगम पार्षद सुभाष सिंगला, रमारानी राठी एवं अश्विनी शर्मा, भाजपा नेता अनिल यादव, नगर निगम गुरूग्राम की अतिरिक्त आयुक्त डा. वैशाली शर्मा, संयुक्त आयुक्त सतीश यादव, सुमित कुमार, संजीव सिंगला एवं डा. विजयपाल यादव, आरटीए सचिव रविन्द्र यादव, चीफ टाऊन प्लानर मधुस्मिता, ऑटो यूनियन से योगेश कौशिक सहित सैंकड़ों की संख्या में ऑटो चालक उपस्थित रहे।

Translated by Google 

Viral News – Gurugram’s Mayor Madhu Azad inaugurated a special camp organized under Project Parivartan at the Municipal Corporation office in Sector-42 on Thursday.

Commissioner of Municipal Corporation Gurugram Mukesh Kumar Ahuja and Additional Commissioner Dr. Vaishali Sharma were present with him. In the camp, 100 persons got themselves registered for e-three wheelers.

On this occasion, Mayor said that under Haryana Government’s ambitious scheme e-change, Municipal Corporation Gurugram, District Administration Gurugram, Traffic Police Gurugram and Traffic Department Gurugram are working fast to convert old diesel-petrol three-wheelers into electronic three-wheelers. Work is being done.

Under this, in the first phase, a special camp has been organized at the Municipal Corporation office, Sector-42, to convert 10-year-old diesel three-wheelers into e-three-wheelers in compliance with the orders of the National Green Tribunal.

He said that the website of Project e-Parivartan has also been launched on Thursday and complete assistance and information is being made available to the citizens through a single window system.

He said that complete information and assistance can be obtained by contacting the helpline number 9821395225 under Project E-Parivartan. The Mayor announced that free charging arrangements have been made at the charging stations set up by the Municipal Corporation of Gurgaon at three places.

These charging stations have been installed at Sector-42 Corporation Office, Sector-29 Fire Station and Sector-27 Community Center. The mayor also took an e-three wheeler ride with the officials.

Municipal Corporation Gurugram Commissioner Mukesh Kumar Ahuja said that 10 years old diesel vehicles and 15 years old petrol vehicles have been banned from April 1 in the Delhi-NCR region including Gurugram by the NGT.

Under Project E-Parivartan, work is being done at a fast pace in Gurugram to convert old diesel autos into e-autos. Subsidy is being given on e-vehicles under the Fame-2 scheme of the Government of India and a subsidy of Rs.

He said that till March 31, e-auto manufacturers are also giving a discount of Rs 20,000 on each e-auto. He called for the adoption of e-vehicles and said that e-vehicles have an important contribution in reducing environmental pollution and the future also belongs to e-vehicles.

Supreme Smart Power Company’s e-three wheeler was the center of attraction for the auto drivers in the camp. Apart from this, auto drivers visited the stalls of Jingo, Sarathi, Shighan, Jangid, Baxi, Kinetic Green, Nandi, Piaggio, Golden and Smart-E. People also took information at the stall of Jiku Motors in the camp.

This company works to convert old vehicles into e-vehicles. Stalls of scrap dealers of Maruti Suzuki, Toyota and Mahindra and companies setting up charging stations were also set up in the camp.

ICICI Bank, Sarva Haryana Gramin Bank, J&K Bank, Canara Bank, HDFC Bank, Union Bank, Axis Bank, Punjab National Bank, UCO Bank, State Bank of India, Central Bank of India under the leadership of Lead Bank Manager Prahlad Rai Godara in the camp Representatives of Karnataka Bank, Indian Overseas Bank were present and informed the auto drivers about the loan facility on e-auto.

Corporators Subhash Singla, Ramrani Rathi and Ashwini Sharma, BJP leader Anil Yadav, Additional Commissioner of Municipal Corporation Gurugram Dr. Vaishali Sharma, Joint Commissioners Satish Yadav, Sumit Kumar, Sanjeev Singla and Dr. Vijaypal Yadav, RTA Secretary Ravindra Yadav were present on the occasion. Hundreds of auto drivers including Chief Town Planner Madhusmita, Yogesh Kaushik from Auto Union were present.

Follow us on Facebook 

Read More News

Shares:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *