ठोस कचरा प्रबंधन पर आयोजित हुई एक दिवसीय कार्यशाला एवं प्रशिक्षण

ठोस कचरा प्रबंधन पर आयोजित हुई एक दिवसीय कार्यशाला एवं प्रशिक्षण

Sinla Jewellers

Viral Sach :-  शहरी स्थानीय निकाय निदेशालय हरियाणा द्वारा गुरूग्राम में ठोस कचरा प्रबंधन पर एक दिवसीय कार्यशाला एवं प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में गुरूग्राम की मेयर मधु आजाद सहित नगर निगम गुरूग्राम, मानेसर एवं क्षेत्र की अन्य शहरी स्थानीय निकायों के अधिकारियों ने हिस्सा लिया। कार्यशाला में आईआईटी रूडक़ी, नगर निगम भोपाल तथा गोवा के एक्सपर्ट ने ठोस कचरा प्रबंधन की विभिन्न तकनीकों तथा उनके यहां अपनाई जा रही गतिविधियों के बारे में जानकारी दी।

गुरूग्राम की मेयर मधु आजाद ने प्लास्टिक का उपयोग नहीं करने का आह्वान किया तथा कचरे को अलग-अलग करने पर जोर दिया। नगर निगम गुरूग्राम के अतिरिक्त आयुक्त जयदीप कुमार ने मेयर, एक्सपर्ट तथा अधिकारियों को स्वागत किया तथा कहा कि आज के समय में ठोस कचरा प्रबंधन महत्वपूर्ण जरूरत है। हम सभी को इस ओर विशेष ध्यान देने की जरूरत है तथा हम सभी की यह नैत्तिक जिम्मेदारी भी है कि अपने यहां से निकलने वाले कचरे का सही तरीके से निष्पादन करें।

 

आईआईटी रूडक़ी के प्रोफेसर डा. ए.ए. काजमी ने ठोस कचरा प्रबंधन की विभिन्न तकनीकों एवं अपनाई जाने वाली गतिविधियों के बारे में जानकारी दी। उन्होंने विशेष रूप से साईट सर्वे, पर्यावरण प्रबंधन प्लान, कचरे को अलग-अलग करने, गैसों की निगरानी, फ्रैश कचरे को अलग साईट पर ले जाने, ग्राऊंड वाटर मैनेजमैंट, कर्मचारियों के स्वास्थ्य एवं सुरक्षा का ध्यान, फायर मैनेजमैंट प्लान, एयर क्वालिटी एवं डस्ट मैनेजमैंट, लीचेट एवं स्ट्रॉम वाटर मैनेजमैंट आदि के बारे में जानकारी दी। उन्होंने कहा कि मिथेन गैस की निगरानी करना बहुत ही जरूरी है तथा आरडीएफ पर मानसून कवर जरूरी होना चाहिए। मिथेन गैस का स्तर चैक करके उसे नियंत्रण में रखना अत्यंत आवश्यक है।

नगर निगम भोपाल के कार्यकारी अभियंता राजेश कुमार सक्सेना ने भोपाल में अपनाई जा रही कचरा प्रबंधन गतिविधियों के बारे में जानकारी दी तथा भानपुर डंप साईट के सौंदर्यकरण के बारे में बताया। गोवा कचरा प्रबंधन निगम के अभियंताओं गजानन कामत एवं शौकन तेली ने पुराने लिगेसी कचरे के रेमिडिएशन के बारे में बताया। उन्होंने सिंगल यूज प्लास्टिक के उपयोग को पूर्णतया बन्द करने तथा कचरे को अलग-अलग करने पर जोर दिया।

शहरी स्थानीय निकाय निदेशालय हरियाणा के चीफ इंजीनियर अशोक राठी ने अंत में सभी एक्सपर्ट तथा अधिकारियों का धन्यवाद किया तथा कहा कि इस प्रकार की कार्यशालाओं से एक-दूसरे शहरों में कचरा प्रबंधन के लिए अपनाई जा रही गतिविधियों के बारे में जानकारी मिलती है। कार्यक्रम में निगम पार्षद विरेन्द्रराज यादव, नगर निगम गुरूग्राम के चीफ इंजीनियर ठाकुरलाल शर्मा, एसई विवेक गिल एवं राधेश्याम शर्मा, नगर निगम मानेसर के एसई विजय ढ़ाका, कार्यकारी अभियंता मनदीप सहित अन्य अधिकारीगण उपस्थित थे।

Sinla Jewellers

Leave your comment
Comment
Name
Email