अवैध निर्माण करने वालो को ही देने होंगे तोडफोड के पैसे, नही देने पर लगेगा रजिस्ट्री पर लाल निशान

अवैध निर्माण करने वालो को ही देने होंगे तोडफोड के पैसे, नही देने पर लगेगा रजिस्ट्री पर लाल निशान

गुरुग्राम, (मनप्रीत कौर) : गुरुग्राम में अवैध कॉलोनी विकसित होने से रोकने व विभिन्न कॉलोनियों में अवैध निर्माण हटाने पर हुए खर्च की रिकवरी को लेकर मंगलवार को जिला टास्क फोर्स की बैठक आयोजित की गई, जिसकी अध्यक्षता उपायुक्त डा. यश गर्ग ने की। उन्होंने बैठक में कहा कि जिला में सभी विभाग अवैध रूप से काटी जा रही कॉलोनियों अथवा अवैध कॉलोनियों में किए जा रहे निर्माण कार्य को शुरुआती स्तर पर ही रोक कर ऐसे व्यक्तियों के खिलाफ सख्ती से कार्रवाई करें।

आज की बैठक में सरस्वती कुंज में अवैध रूप से बन रहे नए मकानों के मामलों पर विस्तार से चर्चा की गई और यह निर्णय लिया गया कि सरस्वती कुंज में अवैध रूप से जो भी नए निर्माण कार्य चल रहे हैं, उनसे सख्ती से निपटा जाए। यदि आवश्यक हो तो पुलिस विभाग द्वारा ऐसे व्यक्तियों के खिलाफ एफआईआर भी दर्ज करवाई जाए।

इसके अलावा, डीएलएफ फेज-3 में नियमों के विरुद्ध जो भी अतिरिक्त फ्लोर के निर्माण कार्य किए गए हैं, उसके लिए टाउन एंड कंट्री प्लानिंग विभाग के अधिकारी ऐसे निर्माणों के भू-मालिकों को नोटिस जारी कर आगे की विभागीय कार्रवाई करवाना सुनिश्चित करें।

R S Bhatt

उपायुक्त ने कहा कि अब तक प्रशासनिक अमले द्वारा अतिक्रमण हटाने के लिए जो भी खर्च किया गया है, उसकी वसूली अतिक्रमण करने वाले व्यक्ति से की जाए। डीटीपी एनफोर्समेंट आरएस भाट ने बैठक में बताया कि पिछले डेढ़ वर्ष के दौरान अतिक्रमण हटाने पर लगभग 35 लाख रुपए खर्च हुए हैं, जिसकी रिकवरी के लिए जिला राजस्व अधिकारी के माध्यम से नोटिस जारी किए जाएंगे।

उपायुक्त ने कहा कि यदि वह व्यक्ति यह खर्च की राशि जमा नही करवाता है तो उसकी रिकवरी भूमि राजस्व के एरियर के तौर पर वसूली जाएगी और राजस्व रिकॉर्ड में उस प्रोपर्टी की लाल रंग से एंट्री दर्ज की जाए।

इस अवसर पर सोहना की एसडीएम डॉक्टर चिनार , डीटीपी आरएस भाट्, डीएचबीवीएन गुरुग्राम के एक्सईएन होशियार सिंह, हाइड्रोलॉजिस्ट वीएस लांबा, डीसीपी हेड क्वार्टर धीरज सेतिया, एसीपी पटौदी वीर सिंह, एसीपी गुरुग्राम ईस्ट करण गोयल,पीडब्ल्यूडी (बी एंड आर) एग्जीक्यूटिव इंजीनियर संदीप सिंह वधावन सहित डिस्ट्रिक्ट अटार्नी गुरुग्राम धर्मेन्द्र राणा प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।

Jindal Jewel advt

Leave your comment
Comment
Name
Email