हाई टेंशन तारों को हटाकर पटेल की टेंशन करें दूर: नवीन गोयल

हाई टेंशन तारों को हटाकर पटेल की टेंशन करें दूर: नवीन गोयल

Viral Sach :- गुरुग्राम समेत पूरे प्रदेश में बिजली संबंधी दिक्कतों को दूर करने के साथ बिजली की सप्लाई सुचारू की गई है। बात चाहे लटकती तारों को दुरुस्त करने की हो या फिर ढाणियों में बिजली पहुंचाने की। भाजपा सरकार ने इस क्षेत्र में बेहतरीन काम किए हैं। गुरुग्राम के पटेल नगर में हाईटेंशन तारों एक समस्या है, जिसे दुरुस्त कराने के लिए पर्यावरण संरक्षण विभाग भाजपा हरियाणा प्रमुख नवीन गोयल ने बिजली मंत्री रणजीत सिंह को पत्र सौंपा है।

नवीन गोयल के नेतृत्व में दीपचंद प्रधान, दीपचंद प्रधान, बीर ङ्क्षसह यादव, राजेंद्र प्रधान गागन गोयल, बाली पंडित, सत्यनाराण कादयान, कर्नल आरके शर्मा आदि सदस्यों का प्रतिनिधिमंडल बिजली मंत्री से मिला। बिजली मंत्री को सौंपे गए पत्र में कहा गया है कि पटेल नगर गुरुग्राम शहर की बहुत पुरानी रिहायशी कॉलोनी है। पहले जब शहर में आबादी कम थी तो यह इलाका खाली था। इसलिए यहां से हाईटेंशन की लाइन गुजारी गई। जैसे-जैसे शहर विकसित हुआ और आबादी बढ़ी तो मकानों का निर्माण भी अधिक हुआ। यहां रिहायशी कालोनी बनने के बाद भी इन हाई टेंशन तारों की व्यवस्था सही प्रकार से नहीं की गई। पटेल नगर हाउसिंग कॉलोनी के रूप में विकसित हो गई है। यहां 30 गज से लेकर 500 गज तक के कई बहु-मंजिला मकान बने हुए हैं। कई मकान तो ऐसे है, जहां हाई टेंशन वायर उन मकानों के छत के ऊपर से जा रही है। जिसकी वजह से कई बार करंट लगने से लोग दुर्घटना के शिकार हुए हैं। बहुत से घरों के लोगों ने तो अपनी ही छतों पर जाना छोड़ दिया है। नवीन गोयल ने बिजली मंत्री रणजीत चौटाला को बताया कि उनके पूर्व में दिए गए आदेशों के अनुसार बिजली विभाग ने कुछ हाईटेंशन लाइन के तार हटा दिए हैं। अभी भी कई तार लोगों के घरों के ऊपर से गुजर रहे हैं। क्षेत्र के लोगों की तरफ से उनका आग्रह है कि बाकी बचे हाईटेंशन बिजली लाइन के तारों को भी यहां से हटाकर लोगों को सुविधा दी जाए। जनता की जीवन सुरक्षा को प्राथमिकता देते हुए इन हाईटेंशन तारों को अंडर ग्राउंड किया जाए। पटेल नगर वासियों की इस मांग को जल्द से जल्द पूरी करके इलाके की इस अहम समस्या का निराकरण किया जाए। बिजली मंत्री रणजीत सिंह ने नवीन गोयल की ओर से सौंपे गए पत्र पर सकारात्मक निर्णय लेने का आश्वासन दिया।

Leave your comment
Comment
Name
Email