कम गंभीर मरीजों के लिए संजीवनी बनेगी संजीवनी परियोजना: बोधराज सीकरी

गुरुग्राम, (प्रवीन कुमार) : हरियाणा में कोरोना के मरीजों के लिए शुरू की गई संजीवनी परियोजना की सराहना करते हुए भाजपा के वरिष्ठ नेता बोधराज सीकरी ने कहा कि यह परियोजना मरीजों के लिए संजीवनी ही बनेगी। उनका जीवन सुरक्षित होगा। यह सरकार का सराहनीय कदम है।

इस परियोजना के तहत कोरोना के कम गंभीर मरीजों का घर पर ही उपचार की सुविधा होगी।

बोधराज सीकरी ने कहा कि सरकार शुरू से ही कोरोना पर नियंत्रण को प्रयासरत है। साथ ही संक्रमितों के सही उपचार के लिए कटिबद्ध है। यही कारण है कि जगह-जगह पर कोविड सेंटर बनाए गए हैं। प्रदेश के हर जिले में लगातार कोरोना को लेकर योजनाएं शुरू की जा रही हैं। गरीबों को ज्यादा दिक्कत ना आए, इसलिए सरकार ने बीपीएल समेत गरीबों का निशुल्क उपचार करने की योजना भी शुरू की है।

अब संजीवनी परियोजना शुरू की गई है। पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर यह परियोजना करनाल जिला में शुरू की गई है। जल्द ही इसे हरियाणा के अन्य जिलों में शुरू किया जाएगा।

परियोजना के बारे में विस्तार से बताते हुए श्री सीकरी ने कहा कि कोरोना के कम या हल्के से मध्यम लक्षणों वाले मरीजों की देखभाल उनके घर पर ही की जाएगी। उन्हें किसी कोविड सेंटर या अस्पताल में भर्ती करने की जरूरत नहीं होगी। यानी व्यक्ति को उपचार के लिए घर से बाहर नहीं निकलना पड़ेगा।

इसका लाभ यह होगा कि कम लक्षणों वाले व्यक्ति अधिक संक्रमण से भी बच जाएंगे और अस्पतालों पर भी दबाव कम होगा। उन्होंने बताया कि संजीवनी परियोजना से उन ग्रामीण क्षेत्रों में चिकित्सा देखभाल का विस्तार किया जाएगा, जहां पर कोरोना की दूसरी लहर के फैलने और इस बीमारी के इलाज के बारे में जागरूकता कम है। सरकार ने सभी तथ्यों के आधार पर इस बात को कहा है कि समुचित देखभाल से 90 फीसदी मरीजों का उपचार घर पर ही किया जा रहा है।

Read Previous

कोरोना संक्रमित व्यक्ति ठीक होने के कम से कम तीन महीने के पश्चात ही करवाएं वैक्सीनेशन

Read Next

कोरोना से या प्राकृतिक कारण से मृत्यु होने पर मिलेगा मुआवजा

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Most Popular