Politics

Bodhraj Sikri से नीलकंठ स्कूल के बच्चों को मिली संस्कारों और उपहारों की सौगात

 

Bodhraj Sikri

 

Viral Sach : आज नीलकंठ स्कूल अंबेडकर नगर गुरुग्राम की संयोजिका डॉक्टर वीना अरोड़ा ने जाने माने समाजसेवी Bodhraj Sikri को अपने स्कूल में बतौर मुख्य अतिथि आमंत्रित किया, जहाँ अत्यंत गरीब परिवार के बच्चे पढ़ते हैं।

बोधराज सीकरी का मन गद्गद हो गया जब उन्होंने उन बच्चों में देशप्रेम की उमंग और राष्ट्र के प्रति सम्मान गीतों के माध्यम से देखा। वास्तव में बच्चे प्रतिभाशाली है यद्यपि वे अभाव में पड़ रहे हैं। सीकरी ने डॉक्टर वीना की जहाँ एक और भूरी भूरी प्रशंसा की वहाँ उन्हें आशीर्वाद भी दिया कि आप एक अच्छे राष्ट्र निर्माण की नींव भी डाल रही हैं जिससे बच्चे सनातन वैदिक पद्यति को ग्रहण कर रहे हैं।

इस स्कूल में डॉक्टर वीना अरोरा निःस्वार्थ भाव से अपने अन्य साथियों के साथ बेहतर शिक्षा असहाय बच्चों को दे रही हैं जिनमें शशि बजाज और आशा रानी का नाम अग्रणी है। यद्यपि जगह छोटी होने के कारण बच्चों को जो सुविधा मिलनी चाहिए वह नहीं मिल पा रही है परंतु उसके बाबजूद सभी एक परिवार की भाँति निर्वाह कर रहे हैं।

 

Bodhraj Sikri

 

अच्छी शिक्षा के अतिरिक्त अध्यापकगण द्वारा बच्चों को संस्कारवान भी बनाया जा रहा है। हर जाति और वर्ग का बच्चा जो असहाय है यहाँ शिक्षा ग्रहण करता है। लगभग सौ बच्चों का यह स्कूल सेवाभाव से अपना नाम रोशन कर रहा है।

बता दें कि बोधराज सीकरी ने पहले बच्चों को प्रेरणादायक भाषण दिया और उसके उपरांत उन्हें कापियां बाँटी। उन्होंने सभी सौ के सौ बच्चों को स्कूल की एक यूनिफार्म होने का सुझाव दिया और दो-दो ड्रेस देने के लिए सारा खर्च वहन करने का संकल्प लिया।

इस दौरान बोध राज सीकरी के आह्वान पर बच्चों ने हनुमान चालीसा का पाठ पढ़ा और प्रतिदिन स्कूल के प्रारम्भ में और समापन के समय दो बार हनुमान चालीसा का पाठ करने का वायदा भी किया।

धर्मेंद्र बजाज और उनकी जीवन संगिनी श्रीमती ज्योत्सना बजाज भी समय-समय पर सहयोग करते रहते हैं।

Translated by Google

Viral Sach: Today Dr. Veena Arora, Convener of Neelkanth School Ambedkar Nagar Gurugram, invited renowned social worker Bodhraj Sikri as the chief guest to her school, where children from very poor families study.

Bodhraj Sikri was moved when he saw the enthusiasm of patriotism and respect for the nation in those children through songs. Children are really talented though they are falling short. While Sikri praised Dr. Veena one more time, she also blessed her that you are also laying the foundation for building a good nation through which children are imbibing the Sanatan Vedic system.

In this school, Dr. Veena Arora is selflessly giving better education to helpless children along with her other colleagues, in which the names of Shashi Bajaj and Asha Rani are leading. Although the children are not getting the facilities they should get due to the small space, but in spite of that everyone is living like a family.

Apart from good education, children are also being made cultured by the teachers. Every caste and class child who is helpless gets education here. This school of about hundred children is making its name famous by service.

Tell that Bodhraj Sikri first gave an inspirational speech to the children and after that distributed copies to them. He suggested all the hundred children to have a school uniform and pledged to bear all the expenses for giving two dresses.

During this, on the call of Bodh Raj Sikri, the children recited Hanuman Chalisa and also promised to recite Hanuman Chalisa twice every day at the beginning and at the end of the school.

Dharmendra Bajaj and his life partner Mrs. Jyotsna Bajaj also cooperate from time to time.

Follow us on Facebook 

Follow us on Youtube

Read More News

Shares:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *