ग्रामीण इक्टट्ठे बैठकर हुक्का पीना, ताश खेलना तथा चैपाल आदि में बैठना करें बंद, पड़ सकता है भारी

गुरूग्राम, (प्रवीन कुमार ) : गुरूग्राम के उपायुक्त डा. यश गर्ग ने कहा कि ग्रामीण परिवेश में बढ़ता संक्रमण शासन-प्रशासन के लिए चिंता का विषय है ,ऐसे में जरूरी है ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले लोग इक्ट्ठे बैठकर हुक्का पीना, ताश खेलना तथा चाय पीना बंद करें। ऐसा करने से संक्रमण फैलने का खतरा अधिक रहता है, इसलिए लोग कोविड अप्रोप्रिएट बिहेवियर का पालन करें।

उपायुक्त ने कहा कि कोरोना संक्रमण ने अब धीरे-धीरे शहरी क्षेत्रों से ग्रामीण क्षेत्रों का रूख कर लिया है, परिणामस्वरूप वहां संक्रमण के मामले ज्यादा सामने आ रहे हैं। ऐसे में जरूरी है कि कुछ आवश्यक सावधानी बरतते हुए संक्रमण रोकने के लिए समय रहते आवश्यक कदम उठाए जाएं। सावधानियों का उल्लेख करते हुए उपायुक्त ने बताया कि ग्रामीण क्षेत्रों में अक्सर लोग चैपालों आदि में हुक्का पीते हैं। इस दौरान वे एक ही पाइप का प्रयोग हुक्का पीने के लिए करते है जिससे संक्रमित व्यक्ति से अन्य लोगों में संक्रमण फैलता है। इसी प्रकार , सिगार व सिगरेट आदि का सेवन करने वाले व्यक्ति से भी कोरोना वायरस अन्य लोगों को संक्रमित करता है। धूम्रपान व्यक्ति के स्वास्थ्य पर प्रतिकूल प्रभाव डालता है, धूम्रपान से सबसे अधिक दुष्प्रभाव व्यक्ति के फेफड़ो पर पड़ता है और कोरोना संक्रमण भी हमारे फेफड़ो को कमजोर बनाकर इन्हे संक्रमित करता है। उन्होंने लोगों से अपील करते हुए कहा कि वे धूम्रपान छोड़कर अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखें।
उपायुक्त ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों मे कोरोना संक्रमण को देखते हुए वहां सैनेटाइजेशन करवाया जा रहा है।

ग्रामीण क्षेत्रों मे टेस्टिंग, ट्रेसिंग व ट्रीटमेंट पर ध्यान केन्द्रित करते हुए संक्रमण की रोकथाम को लेकर काम किया जा रहा है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना संक्रमित मरीजों की पहचान के लिए टीमों को प्रशिक्षित किया गया हैं। ये टीमें घर-घर जाकर लोगों को कोरोना संक्रमण संबंधी लक्षणों के बारे में जानकारी देने के साथ साथ संदिग्ध लक्षण वाले मरीजों की रैपिड एंटीजन टेस्टिंग भी करेंगी। संक्रमित पाए जाने वाले लोगों को स्वास्थ्य विभाग द्वारा मैडिकल किट भी प्रदान की जाएगी।

उनहेंने आमजन से अपील करते हुए कहा कि वे कोरोना संक्रमण को रोकने में जिला प्रशासन का सहयोग करें और अपने नजदीकी टीकाकरण केन्द्र पर जाकर कोरोना रोधी टीका लगवाएं। उन्होंने कहा कि लोग वैक्सीन को लेकर अफवाहों पर ध्यान ना दें और अपना टीकाकरण करवाएं।

Read Previous

कोरोना संक्रमित बीपीएल मरीजों को प्रदेश सरकार देगी 35 हजार रूप्ये तक की राशि की सहायता

Read Next

टीकाकरण के बाद भी सेनिटाइजेशन, मास्क व सामाजिक दूरी का करे पालन

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Most Popular