गरीबों का आशियाना तोड़ रही सरकार, जनता माफ नहीं करेगी : पंकज डावर

Viral Sach : गुरुग्राम अब गरीबों का शहर नहीं रह गया, यहां गरीब मजदूर या गरीब आदमी को यह सरकार नहीं रहने देना चाहती। यह कहना है कांग्रेस नेता पंकज डावर का।

पंकज डावर ने कहा कि रोजाना बड़े पैमाने पर गरीब लोगों के आशियाने तोड़े जा रहे हैं। जिन अमीरों ने अपने रसूख के बल पर अवैध आशियाने निर्मित किए हैं। उस पर प्रशासन कभी भी बुलडोजर नहीं चला सकता। प्रशासन को तो सिर्फ गरीब लोगों के आशियाने नजर आते हैं।

पंकज डावर ने कहा कि डीटीपी इंफोर्समेंट की ओर से बीते 2 दिन में करीब 3000 झुग्गियों को तोड़ा गया। इसमें हजारों लोगों का परिवार गुजर बसर करता था। इन झुग्गियों में गरीब तबके के मजदूर जो ज्यादातर दूसरे प्रदेशों से रोजी-रोटी की तलाश में इस शहर में आए हुए हैं और इन्हीं झुग्गियों में रहकर वह अपनी जीविका चलाते हैं। लेकिन सरकार ऐसे लोगों को शहर में रहने ही नहीं देना चाहती। शायद इसीलिए लगातार गरीब लोगों के आशियाने को तोड़ने की इस सरकार में एक मुहिम सी चल रही है।

पंकज डावर ने कहा कि जो अधिकारी गरीब लोगों के आशियाने पर बुलडोजर चला रहे हैं। वह अधिकारी उस समय कहां थे जब यहां की कालोनियों में छोटे छोटे मकानों के निर्माण किया गया और झुग्गियों को बसाया गया। अगर समय रहते ही सरकार और प्रशासनिक अधिकारियों ने कार्रवाई की होती तो न तो कोई अवैध निर्माण होता और ना ही अवैध झुग्गिया निर्मित होती। लेकिन जब यहां छोटे-छोटे मकान बनाकर लोग अपना जीवन यापन करने का प्रयास कर रहे हैं और झुग्गियों में रहकर अपनी जीविका चलाते हैं। तो सरकार को यह सब कार्य अवैध लगता है।

पंकज डावर ने दावा किया कि यहां के सभी सेक्टरों में अवैध रूप से मकानों के निर्माण हो रहे हैं। यहां के नेताओं और अधिकारियों की कमर्शियल साइट निर्मित हो रही है। जो सभी अवैध है, प्रशासनिक अधिकारियों में दम है तो इन पर कार्रवाई करके दिखाएं।

Read Previous

आखिर क्यों Sec – 10A के एक परिवार पर आई पलायन करने की नौबत

Read Next

प्रॉपर्टी आईडी एवं टैक्स से संबंधित समस्याओं का शीघ्र होगा समाधान

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Most Popular