समाजसेवा के साथ धूमधाम से मनाया गया डेरा सच्चा सौदा के संस्थापक शाह मस्ताना जी का अवतार दिवस

समाजसेवा के साथ धूमधाम से मनाया गया डेरा सच्चा सौदा के संस्थापक शाह मस्ताना जी का अवतार दिवस

सरसा, (ब्यूरो) : डेरा सच्चा सौदा के संस्थापक बेपरवाह साईं शाह मस्ताना जी महाराज का पावन अवतार दिवस शुक्रवार को श्रद्धापूर्वक मनाया गया। पावन अवतार दिवस एक बार फिर मानवता भलाई कार्यों को समर्पित रहा। इस अवसर पर पूज्य गुरु संत डॉ. गुरमीत राम रहीम सिंह जी इन्सां ने अपनी नेक कमाई में से 330 परिवारों को 1 माह का राशन, 140 परिवारों को गर्म कंबल वितरित किए। पावन भंडारे के दौरान ही साध-संगत की ओर से दिव्यांगजनों को ट्राई साइकिल व परिवारों को आशियाना मुहिम के तहत ब्लॉकों द्वारा निर्मित मकानों की चाबियां सौंपी गई। भंडारे में शिरकत करने के लिए शाह सतनाम जी धाम में श्रद्धालुओं का सैलाब उमड़ा और आश्रम से लेकर शहर तक संगत ही संगत नजर आई। पावन भंडारे पर आई साध-संगत को गुरु का अटूट लंगर वितरित किया गया। इस अवसर पर इकलौती बेटी वाले परिवारों के वंश को चलाने के लिए पूज्य गुरु जी द्वारा चलाई गई मुहिम ‘कुल का क्राउन’ के तहत एक शादी भी की गई।

शाह सतनाम जी धाम में आयोजित कार्तिक पूर्णिमा के पावन भंडारे की नामचर्चा में हरियाणा, पंजाब, राजस्थान, दिल्ली व अन्य राज्यों की साध-संगत ने भाग लिया। कोरोना काल के बाद डेरा सच्चा सौदा में पहला आयोजन था, जिसके चलते चारों ओर श्रद्धालु ही श्रद्धालु नजर आए। पावन भंडारे को सफल बनाने के लिए आश्रम मैनेजमेंट के नेतृत्व में डेरा की विभिन्न कमेटियों के सेवादार पूरी तनमयता से सेवा कार्य में जुटे रहे। आश्रम में आने वाली साध-संगत के लिए पूरे प्रबंध किए गए। भारी संख्या में आए साधनों को ठहराने का विशेष प्रबंध किया गया।

गौरतलब है कि परम पूजनीय बेपरवाह साई शाह मस्ताना जी महाराज ने विक्रमी सम्वत 1948 (सन् 1891) को कार्तिक की पूर्णमासी को गांव कोटड़ा तहसील गंधेय रियासत कलायत बिलोचिस्तान (जो अब पाकिस्तान में है) में पूजनीय पिता श्री पिल्ला मल जी और पूजनीय माता तुलसां बाई जी के घर अवतार धारण किया था। आपजी ने 29 अप्रैल 1948 को डेरा सच्चा सौदा की स्थापना की और लोगों को राम-नाम से जोड़कर बुराइयां छुड़ाई और उनके घरों को खुशियों से महकाया।

बड़ी-बड़ी स्क्रीनों पर सुनाए गए वचन
शाह मस्ताना जी महाराज के पावन भंडारे पर पहुंची साध-संगत को पूज्य गुरु जी के पावन वचन सुनाने के लिए पंडाल में दर्जनों बड़ी-बड़ी स्क्रीन लगाई गई। इन स्क्रीनों के माध्यम से पूज्य गुरु जी के रिकॉर्ड भंडारे का प्रसारण किया गया।

जरूरतमंदों को मिला राशन, सर्दी से बचने के लिए मिले कंबल
खुशी को मानवता भलाई के कार्य कर मनाने की राह दिखाने वाले पूज्य गुरु संत डॉक्टर गुरमीत राम रहीम सिंह जी इन्सां स्वयं भी पावन भंडारे पर जरूरतमंद परिवारों की सहायता करने के लिए आगे रहे। पूज्य गुरु जी ने अपनी श्री गुरुसर मोडिया की कमाई में से 330 परिवारों को 1 माह का राशन व 130 परिवारों को गरम कंबल वितरित किए। विदित रहे कि पूज्य गुरु जी संगत को जो भी कार्य करने के लिए बोलते हैं वह कार्य पहले स्वयं करते हैं फिर संगत को राह दिखाते हैं।

4 परिवारों को मिले मकान
डेरा सच्चा सौदा की आशियाना मुहिम के तहत बेपरवाह शाह मस्ताना जी महाराज के अवतार दिवस के उपलक्ष्य में ब्लॉकों द्वारा 4 परिवारों को मकान बनाकर दिए गए। पावन भंडारे के अवसर पर इन 4 परिवारों को ब्लॉक के जिम्मेदारों द्वारा उनके मकानों की चाबियां भेंट की गई।

Leave your comment
Comment
Name
Email