माउंट एवरेस्ट बेस कैंप जाएगा तीन साल का शिशु हेयांश

माउंट एवरेस्ट बेस कैंप जाएगा तीन साल का शिशु हेयांश

bombay Jewellers

गुरुग्राम,(मनप्रीत कौर) : गुरुग्राम के जाने-माने समाजसेवी, चिन्तक, विश्लेषक, भाजपा के वरिष्ठ नेता एवं मुख्यमंत्री द्वारा मनोनीत वाईस चेयरमैन हरियाणा स्टेट सीएसआर ट्रस्ट बोधराज सीकरी एक विलक्षण काम करने जा रहे हैं। वे मैनकाइंड फार्मा लिमिटेड के साथ मिलकर मात्र तीन साल का शिशु माउंट एवरेस्ट के बेस कैंप भेजेंगे। वह पल अद्भुत, अविश्वसनीय और अकल्पनीय होंगे, जब यह उपलब्धि बालक हेयांश कुमार हासिल कर लेगा।

बोधराज सीकरी के अनुसार हेयांश कुमार मात्र तीन साल का है और पिछले एक वर्ष से हिमाचल की पहाडिय़ों पर पर्वतारोहण का अभ्यास कर रहा है। यूं कह सकते हैं कि बालक हेयांश मां के गर्भ में अभिमन्यु की भांति पर्वतारोहण की कहानियां सुनीं। अब उसे विश्व कीर्तिमान स्थापित करने के लिए उत्साहित कर मैनकाइंड फार्मा के सौजन्य से रवाना करने की योजना बनाई है। हेयांश का लक्ष्य और ध्येय है विश्व के सबसे कम आयु के शिशु के नाते माउंट एवेरेस्ट के बेस कैंप तक पहुंचना। इस शिशु ने गुरुग्राम के ही बाबड़ा बाकीपुर ग्राम में मध्यमवर्गीय किसान के यहां जन्म लिया था। हेयांश को लेकर काठमांडू (नेपाल) से सभी औपचारिकताएं पूरी हो चुकी है।

कोच नरेन्द्र सिंह पर्वतारोही जिन्होंने पांच महाद्वीपों की सबसे ऊंची चोटी फतह ही है। अब तक पर्वतारोहण के क्षेत्र में 18 विश्व रिकॉर्ड स्थापित किये है, वल्र्ड रिकॉर्ड यूनियन की ओर से वल्र्ड किंग अवार्ड से नवाजा गया है। उनके मार्गदर्शन में इस अभियान को चलाया जाएगा। न केवल गुरुग्राम के लिए या पूरे प्रान्त हरियाणा के लिए बल्कि पूरे राष्ट्र के लिए ये गौरव का विषय है कि मात्र तीन वर्ष का शिशु इस प्रकार के कीर्तिमान के लिए कृतसंकल्प है। इससे अन्य शिशुओं को भी प्रेरणा मिलेगी और हरियाणा का नाम रोशन होगा, जो खेल-जगत में पूरे देश में अग्रणी है। यदि यह शिशु सफल होता है तो हरियाणा के ताज में एक और हीरा चमकेगा, जो प्रान्त का नाम रोशन करेगा।

Leave your comment
Comment
Name
Email