Gurugram

संयुक्त किसान मोर्चा ने धरने पर ही मनाई Buddha Purnima

Buddha Purnima

 

Viral Sach – गुरुग्राम : संयुक्त किसान मोर्चा गुरुग्राम के अध्यक्ष चौधरी संतोख सिंह एवं गजे सिंह कबलाना ने संयुक्त ब्यान में बताया कि आज धरने पर Buddha Purnima मनाई गई।

कार्यक्रम की शुरुआत सभी किसानों ने महात्मा बुद्ध के चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित करके की।उन्होंने कहा कि महात्मा बुद्ध ने पूरी दुनिया को शांति का संदेश दिया और उसी सिद्धांत पर चलते हुए किसान छह महीने से शांतिपूर्वक अपनी माँगो के समर्थन में आन्दोलन चला रहे हैं।

 

budhha purnima

उन्होंने बताया कि आज 26 मई को किसान आंदोलन के 6 महीने पूरे होने पर किसानों ने पूरे देश में सरकार के ख़िलाफ़ विरोध दिवस मनाया। किसानों तथा किसान आंदोलन को समर्थन कर रहे सभी जनसंगठनों, ट्रेड यूनियनों तथा ट्रांसपोर्टर्स के कार्यकर्ताओं ने अपने मकानों, दुकानों, ट्रकों और अन्य वाहनों पर काले झंडे लगा कर सरकार के ख़िलाफ़ विरोध प्रदर्शन किया।

गुरुग्राम में भी किसान आंदोलन के 181वें दिन किसान, मज़दूर तथा विभिन्न सामाजिक संगठनों के प्रमुख व्यक्ति हाथ की बाहों पर काली पट्टियां बांधकर धरने पर बैठे तथा धरने पर काले झंडे लगाए।

 

Budhha Purnima

 

प्रदर्शनकारी किसानों ने तीन काले क़ानून बनाए जाने के विरोध में सरकार विरोधी नारे लगाए। गुरुग्राम में भी किसानों ने अपने मकानों, दुकानों, ट्रकों और अन्य वाहनों पर काले झंडे लगा कर सरकार के ख़िलाफ़ विरोध प्रदर्शन किया।

किसान मोर्चा अध्यक्ष चौधरी संतोख सिंह ने धरने को संबोधित करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री ने एक कार्यक्रम में अपने संबोधन में कहा कि जमाखोरी, कालाबाज़ारी तथा मुनाफ़ाख़ोरी मानवता के ख़िलाफ़ है तथा दूसरी तरफ़ आवश्यक वस्तु अधिनियम में संशोधन करके पूंजीपतियों को जमाखोरी की इजाज़त दे दी है तथा जमाखोरी के क़ानून को कमज़ोर कर दिया जो कि सरकार का दोहरा मापदंड है।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने अपने संबोधन में यह कहकर कि जमाखोरी कालाबाज़ारी तथा मुनाफ़ाख़ोरी मानवता के ख़िलाफ़ है, सैद्धांतिक रूप से मान लिया है कि आवश्यक वस्तु अधिनियम में संशोधन ग़लत किया है इसलिए सरकार को चाहिए कि तीनों काले कानूनों को वापस ले लें। उन्होंने कहा कि सरकार तीनों काले कानूनों को वापस नहीं लेती है तो आंदोलन को तेज किया जाएगा।

धरने को संबोधित करते हुए गजे सिंह कबलाना ने कहा कि संयुक्त किसान मोर्चा ने प्रधानमंत्री को पत्र लिखकर किसानों से बात करके तथा तीनों काले क़ानून रद्द करने तथा MSP की गारंटी का क़ानून बनाने की माँग की है।

उन्होंने कहा कि किसान छः महीने के लंबे समय से अपनी माँगो के समर्थन में धरने पर बैठे हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री किसानों की माँग पूरी करें ताकि किसान अपने घर जा सके। उन्होंने कहा कि जब तक सरकार तीनों काले कानूनों को वापस नहीं ले लेते आंदोलन जारी रहेगा।

आज धरने पर बैठने में धर्मबीर परवाल, ऊषा सरोहा, एस एस प्रजापति, अनिल पंवार, जयप्रकाश रेहडू, डॉक्टर धर्मवीर राठी, बलवान सिंह दहिया, माइकल सैनी, विजय यादव, जे सी यादव एडवोकेट, ईश्वर सिंह पहलवान, डॉक्टर सारिका वर्मा, योगेश कुमार, राजीव शोराण, राजेश गोस्वामी, भारती देवी, योगेश्वर दहिया, पंजाब सिंह, मनोज झाड़सा, श्रवण सिंह, वज़ीर सिंह, एम सहरावत, राकेश मान, सुरजीत सिंह, आकाशदीप, ईश्वर, तनवीर अहमद, आर सी हुड्डा, विंग कमांडर एम एस मलिक, बलवान सिंह, मीनू सिंह, वीरवती, गीता, सन्तोष, पूनम, सीमा, प्रमिला, राजबाला, लक्ष्मी तथा अन्य व्यक्ति शामिल हुए।

Translated by Google 

Viral News – Gurugram: Chaudhary Santokh Singh and Gaje Singh Kablana, president of United Kisan Morcha Gurugram, told in a joint statement that Buddha Purnima was celebrated on the dharna today.

All the farmers started the program by paying floral tributes to the picture of Mahatma Buddha. He said that Mahatma Buddha gave the message of peace to the whole world and following the same principle, the farmers have been peacefully protesting for six months in support of their demands.

He told that today on May 26, on completion of 6 months of the farmer’s movement, the farmers across the country celebrated protest day against the government. Activists of all mass organizations, trade unions and transporters supporting farmers and farmer’s movement protested against the government by putting black flags on their houses, shops, trucks and other vehicles.

In Gurugram also, on the 181st day of Kisan Andolan, farmers, laborers and prominent persons of various social organizations sat on a dharna by tying black bands on their arms and hoisted black flags on the dharna.

The protesting farmers raised anti-government slogans against the enactment of three black laws. In Gurugram too, farmers protested against the government by putting black flags on their houses, shops, trucks and other vehicles.

Addressing the dharna, Kisan Morcha President Chaudhary Santokh Singh said that the Prime Minister in his address in a program said that hoarding, black marketing and profiteering are against humanity and on the other hand by amending the Essential Commodities Act, capitalists have been allowed to hoard. And weakened the law of hoarding which is the double standard of the government.

He said that by saying that hoarding, black marketing and profiteering is against humanity, the Prime Minister has theoretically accepted that the amendment in the Essential Commodities Act was wrong, so the government should withdraw all the three black laws. He said that if the government does not withdraw all the three black laws, the movement will be intensified.

Addressing the dharna, Gaje Singh Kablana said that the United Kisan Morcha has written a letter to the Prime Minister, talking to the farmers and demanding the repeal of all three black laws and a law to guarantee MSP.

He said that the farmers have been sitting on dharna for the last six months in support of their demands. He said that the Prime Minister should fulfill the demands of the farmers so that the farmers can go to their homes. He said that the movement will continue till the government withdraws all the three black laws.

Dharambir Parwal, Usha Saroha, SS Prajapati, Anil Panwar, Jayprakash Rehdu, Dr. Dharamveer Rathi, Balwan Singh Dahiya, Michael Saini, Vijay Yadav, JC Yadav Advocate, Ishwar Singh Pahalwan, Dr. Sarika Verma, Yogesh Kumar sitting on dharna today , Rajeev Shoran, Rajesh Goswami, Bharti Devi, Yogeshwar Dahiya, Punjab Singh, Manoj Jharsa, Shravan Singh, Wazir Singh, M Sehrawat, Rakesh Mann, Surjit Singh, Akashdeep, Ishwar, Tanveer Ahmed, RC Hooda, Wing Commander MS Malik , Balwan Singh, Meenu Singh, Veeravati, Geeta, Santosh, Poonam, Seema, Pramila, Rajbala, Lakshmi and others attended.

Follow us on Facebook 

Read More News

Shares:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *