पंजाबी बिरादरी महा संगठन के बैनर तले बैसाखी मिलन समारोह में दिखी पंजाबियों की एकता

Viral Sach : ऐसा कम ही देखने को मिलता है जब एक मंच पर एक ही बिरादरी से पक्ष-विपक्ष के नेता मौजूद हों। पंजाबी बिरादरी महा संगठन ने द्रोण नगरी गुरुग्राम में बैसाखी मिलन समारोह में अलग-अलग राजनीतिक दलों के नेताओं को आमंत्रित करके ऐसा संभव कर दिखाया। न्यू कालोनी के दशहरा मैदान में हुए इस समारोह में पहुंचे पंजाबी नेताओं ने इस आयोजन के लिए महा संगठन के प्रधान बोधराज सीकरी की पीठ थपथपाई।

महामंडलेश्वर स्वामी धर्मदेव जी ने भी यहां अपना आशीर्वाद दिया। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने फोन के माध्यम से बैसाखी पर्व की सभी को माइक पर बधाई दी। समारोह में श्री धर्म बीर गाबा पूर्व मंत्री , राजेश सूटा कौशाध्यक्ष जे॰जे॰पी॰ करनाल से सांसद संजय भाटिया, रोहतक से पूर्व मंत्री मनीष ग्रोवर, थानेसर से विधायक सुभाष सुधा, यमुनानगर से विधायक घनश्याम दास अरोड़ा, पानीपत के विधायक प्रमोद विज, जींद से विधायक कृष्ण मिड्ढा, हांसी से विधायक विनोद भयाना, फ़रीदाबाद की विधायक श्रीमती सीमा त्रिखा, महिला आयोग हरियाणा की चेयरपर्सन रेनू भाटिया, हरियाणा कला परिषद के निदेशक संजय भसीन, हरियाणा बिजली बोर्ड के निदेशक अतुल मुखी , केशवपुरम नई दिल्ली से भाजपा अध्यक्ष राजकुमार भाटिया ने अतिथि के रूप में शिरकत की।

समारोह में प्रसिद्ध गायक एवं सांसद हंसराज हंस के पुत्र नवराज हंस ने पंजाबी, हिंदी गीतों से समां बांध दिया। बच्चे, बूढ़े और जवान उनके गीतों पर यहां झूमते नजर आए। यहां तक कि जींद के विधायक कृष्ण मिड्ढा, थानेसर के विधायक सुभाष सुधा और रोहतक से पूर्व विधायक एवं पूर्व मंत्री मनीष ग्रोवर के अलावा महा संगठन के प्रधान बोधराज सीकरी ने भी जमकर डांस किया।

एक-दूसरे को आगे बढ़ाने की सोच रखें: संजय भाटिया
स्वागत की रस्म पूरी होने के बाद अपने संबोधन में करनाल के सांसद संजय भाटिया ने 15 संगठनों को मिलाकर महा संगठन बनाने पर बोधराज सीकरी कीे बधाई दी। साथ ही उन्होंने पे्ररणादायी बातों में कहा कि जो कौम अपने महापुरुषों, उनके इतिहास को भूल जाती है, वह कभी इतिहास नहीं बना सकती। उन्होंने कहा कि अपने बच्चों में संस्कार भी पैदा करो। नहीं तो देश, समाज से पहले हमारे परिवारों में दिक्कतें आएंगी। उन्होंने यह भी कहा कि सभी पंजाबी आपसी मतभेद भुलाकर आगे बढ़ें। दूसरे को आगे बढ़ाने की सोच रखेंगे तो हम खुद भी आगे बढ़ेंगे।

सुभाष सुधा
कुरुक्षेत्र के थानेसर से विधायक सुभाष सुधा ने भी पंजाबियों को एकता से रहने की बात कही। उन्होंने कहा कि जब तक संगठित नहीं होंगे, तब तक राजनीति में सफल नहीं होंगे l

रिफ्यूजी को लेकर भी बने एक्ट: कृष्ण मिड्ढा

जींद से भाजपा विधायक कृष्ण मिड्ढा ने कहा कि देश को हर तरह से मजबूत बनाने में पंजाबियों का अहम योगदान है। श्री मिड्ढा ने मांग की कि पंजाबियों को रिफ्यूजी कहना गलत है। रिफ्यूजी यहां बांगलादेशी हैं। उन्होंने मांग की कि पंजाबियों को रिफ्यूजी कहने पर प्रतिबंध लगे। इस पर एससी/एसटी की तरह एक्ट बनाया जाए।

सनातन धर्म मजबूत हुआ है: मनीष ग्रोवर

समारोह में पूर्व मंत्री मनीष ग्रोवर ने कहा कि हम सनातनी वैदिक भगवा में विश्वास रखते हैं। हमें जाति-धर्म में बांटा गया। पिछले 7-8 साल में सनातन और वेदिक धर्म मजबूत हुआ है। उन्होंने लोगों से अपील की कि राजनीति में चाहे किसी भी दल में जाओ, लेकिन रेल के इंजन के साथ लगना। उन्होंने यह भी कहा कि सनातन और वेदिक धर्म की आज जय-जयकार हो रही है।

पंजाबियों को उनका हक मिलना जरूरी: सीकरी

समारोह में बोलते हुए बोधराज सीकरी ने कहा कि हम पंजाबी कर्म प्रधान हैं। बुजुर्गों ने हमें सिखाया है। हमने कभी आरक्षण नहीं मांगा। सदा देना ही सीखा है और दिया है। उन्होंने कहा कि देशहित में काम करने वाले पंजाबी हैं। दुख की बात है कि आज हरियाणा में पंजाबी विधायकों की संख्या घट गई है। इस पर भी चिंतन किया जाए। गुरुग्राम पंजाबी समुदाय का अपना कोई भवन नहीं है। सरकार से मांग है कि वह इस दिशा में काम करे। पैसे बिरादरी देगी। उन्होंने यह भी कहा कि संगठन की नीतियों पर चलने वालों की पहचान जरूरी है।

इस कार्यक्रम में बोधराज सीकरी, ओपी कथूरिया, सुरेंद्र खुल्लर, रामकिशन गांधी, राजेश सूटा, देवराज आहूजा, बालकृष्ण खत्री, कंवरभान वधवा, सुभाष अदलखा, रामलाल ग्रोवर, हरियाणा कला परिषद के निदेशक संजय भसीन, फिरोजपुर झिरका के
अर्जुनदेव चावला, एडवोकेट सुभाष ग्रोवर, ओपी बंधू, सुभाष गांधी, सुभाष डूडेजा, प्रमोद सलूजा, दलीप लूथरा, कृष्ण ग्रोवर, भीमसेन नासा, रामलाल ग्रोवर, कुलभूषण विरमानी, धर्मसागर, डीएन कवातरा, पूनम भटनागर एडवोकेट, एसके गाबा, वाईके चुघ, डेरावाल बिरादरी के प्रधान रमेश चुटानी, नितिन टूडेजा एडवोकेट, आहूजा बिरादरी के प्रधान सतीश आहूजा, अशोक आहूजा, गजेंद्र गोसाईं, बीडी पाहूजा, डा. हितेंद्र आहूजा, डा. अन्नू आहूजा, डा. परमेश्वर अरोड़ा, सरदार करनेल सिंह संधू, लक्ष्मणदास पाहूजा, धर्मेद्र बजाज, रमेश कामरा, रमेश कालरा, मोहित ग्रोवर यशपाल बतरा, सीमा पाहूजा संजय , मनोचा,, अशोक गेरा, रमेश पाल, प्राचार्य सुभाष सपरा,नवीन भाटिया पानीपत से उपस्थित रहे।

Read Previous

अनिश्चितकालीन धरना दिन-73, संयुक्त अहीर रेजिमेंट मोर्चा ने किया फरुखनगर ब्लॉक की कोर कमेटी का गठन

Read Next

गुरुग्राम के अस्पताल में ठेके पर लगे कर्मचारियों ने बनाए हैं कई रिकॉर्ड

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular