बोध राज सीकरी के प्रयास से निरामया धर्मार्थ ट्रस्ट को मिला नया दृष्टि रथ

बोध राज सीकरी के प्रयास से निरामया धर्मार्थ ट्रस्ट को मिला नया दृष्टि रथ

Viral Sach : गुरुग्राम व आस-पास के 60 किलोमीटर के दायरे में निरामया चैरिटेबल ट्रस्ट नेत्र सेवा में अग्रसर है चाहे आँखों की जाँच, चश्में का नम्बर निकालना हो, मोतियाबिंद के ऑपरेशन हो, नेत्रदान हो अथवा नेत्र प्रत्यारोपण हो, निरामया चैरिटेबल ट्रस्ट लगभग 19 साल से सेवा में संलग्न है |

2012 में “कंसर्न इंडिया फाउंडेशन” ने एक बड़ी एम्बुलेंस निरामया ट्रस्ट को दी थी, जिसे दृष्टि रथ का रूप दे कर 10 वर्ष “नेत्रसेवा आपके द्वार” के रूप में सेवा की गई | सरकारी आदेशानुसार 10 वर्ष के बाद वो रथ सड़क पर नहीं चल सकता था और जिसके परिणामस्वरुप 2-3 महीनें तक सेवा स्थगित कर दी गयी |

इस संस्था की सेवाओं को ध्यान में रखते हुए हमारे शुभचिन्तक श्री बोधराज सीकरी जी, जो कि हरियाणा CSR ट्रस्ट के वाईस चेयरमैन है एवं पंजाबी बिरादरी महा संगठन के प्रधान भी है, अपने परम मित्र श्री सतीश अलावादी, अध्यक्ष, मैसर्स स्वम तोयल पैकेजिंग इंडस्ट्रीज प्रा. लि. के माध्यम से 25 लाख रूपये की राशि निरामया चैरिटेबल ट्रस्ट को प्रायोजित करवाई है | इसके द्वारा एक नया दृष्टि रथ जल्दी ही तैयार हो कर गुरुग्राम व आस-पास के इलाके में नेत्र सेवा के लिए उपलब्ध रहेगा | टीम निरामया बोध राज सीकरी जी का धन्यवाद करती है और मैसर्स स्वम तोयल पैकेजिंग इंडस्ट्रीज प्रा. लि. के अध्यक्ष श्री अलावादी जी का भी आभार व्यक्त करती है |

निरामया ट्रस्ट पंजाबी बिरादरी महा संगठन के साथ नेत्र शिविर लगा कर सेवा के लिए सदा तत्पर थी और तत्पर रहेगी |

Leave your comment
Comment
Name
Email