Gurugram

Makar Sankranti के पर्व पर पंजाबी बिरादरी महासंगठन ने आयोजित किया अद्भुत कार्यक्रम

Makar Sankranti

 

Viral Sach : Makar Sankranti – सूर्य की एक राशि से दूसरी राशि में प्रवेश से मकर संक्रांति घटित होती है | दो राशि के मिलन को ही संक्रांतिकाल कहते है | यह प्रकृति के परिवर्तन का मधुर व पावन पर्व है | कुछ लोग इसे धार्मिक पर्व एवं कुछ लोग इसे खिचड़ी पर्व मानते है |

यह पर्व हमारी संस्कृति एवं परम्पराओं से जुड़ा है | इस दिन दान-दक्षिणा भी देने की प्रथा है | इसी प्रथा को निभाते हुए नव गठित पंजाबी बिरादरी महासंगठन ने 18 मंदिरों में देसी घी निर्मित खिचड़ी प्रसाद वितरित कर अपनी पंजाबी संस्कृति एवं सभ्यता और भाईचारे का सन्देश भेजा और पंजाबियत को बरक़रार रखने के लिए युवा वर्ग को एकता का सन्देश दिया |

खिचड़ी वितरण का कार्यभार श्री अनिल कुमार जी ने किया और इस यज्ञ में श्री ब्रिज खन्ना जी जो श्री सिकरी जी के औषध उद्योग के मित्र हैं ने धन की आहुति डाली l

 

Makar Sankranti

 

मंदिरों की सूची इस प्रकार है : गीता भवन, न्यू कॉलोनी, श्याम मंदिर, न्यू कॉलोनी, हनुमान मंदिर, मदन पुरी, राम मंदिर, प्रताप नगर, बालाजी हनुमान मंदिर, शिवाजी नगर, कृष्ण मंदिर, 4-8 मरला, गंगा गिरी कुटिया, बलदेव नगर, कृष्ण मंदिर, भीम नगर, उदयभान देवी मंदिर, भीम नगर, गीता सार देवी मंदिर भीम नगर, चिंतपूर्णी मंदिर, सेक्टर-5, पंचमुखी हनुमान मंदिर, सेक्टर-7 एक्स्टेन्शन, भूतेश्वर मंदिर, पटौदी चौक, सनातन धर्म सभा, सेक्टर-56, राम मंदिर, मियांवाली कॉलोनी, श्री विशाल राम श्याम मंदिर, जैकबपुरा, राम मंदिर, सेक्टर-5, शिव मंदिर, शिवपुरी |

इसके अतिरिक्त पालम विहार स्थित कामधेनु गौशाला में जाकर पंजाबी बिरादरी महासंगठन के सदस्यों ने बोध राज सीकरी, प्रधान, पंजाबी बिरादरी महा संगठन, अध्यक्ष की अध्यक्षता में वहां चारा, गुड़ और रोजमर्रा में दी जाने वाली गायों की खाने की सामग्री, जिसकी कीमत लगभग एक लाख रूपये तक थी, दान दी जिसमें बोध राज सीकरी प्रधान,

 

Makar Sankranti

 

पंजाबी बिरादरी महा संगठन, के अतिरिक्त ओम स्वीट्स के चेयरमैन ओम कथूरिया, प्रसिद्ध आर्य समाज के पदाधिकारी श्री कन्हैया लाल जी आर्य , केन्द्रीय सनातन धर्म सभा के प्रधान श्री सुरेन्द्र खुल्लर, संगठन के महा मंत्री श्री रामलाल ग्रोवर, जाने माने समाज सेवी श्री सी॰ बी॰ मनचंदा जी, यदुवंश चुग जी, एम कुमार जी,

विजय बाटला जी, श्री सुभाष डुडेजा जी, श्री रामकिशन गाँधी जी, विकास आर्य जी, धर्मेन्द्र बजाज जी, रमेश कामरा जी, राजकुमार कथूरिया जी, नरेन्द्र कथूरिया जी, अर्जुन नासा जी, श्री संजय टंडन जी, जी ऐन गोसाईं जी, ओ. पी. कामरॉ जी, ओ. पी. कालरा जी, विष्णु दीप मल्होत्रा जी और सुभाष नागपल जी आदि उपस्थित थे |

Translated by Google 

Viral Sach: Makar Sankranti – Makar Sankranti occurs when the sun enters from one zodiac sign to another. The union of two zodiac signs is called Sankrantikal. This is a sweet and auspicious festival of transformation of nature. Some people consider it a religious festival and some people consider it as Khichdi festival.

This festival is related to our culture and traditions. It is customary to give charity and dakshina on this day. Following this practice, the newly formed Punjabi Biradari Mahasangathan distributed khichdi prasad made of desi ghee in 18 temples and sent the message of its Punjabi culture and civilization and brotherhood and gave the message of unity to the youth to maintain Punjabiyat.

Mr. Anil Kumar ji was in charge of distribution of Khichdi and Mr. Brij Khanna ji who is a friend of Mr. Sikri ji’s pharmaceutical industry donated money in this Yagya.

The list of temples is as follows: Geeta Bhawan, New Colony, Shyam Mandir, New Colony, Hanuman Mandir, Madan Puri, Ram Mandir, Pratap Nagar, Balaji Hanuman Mandir, Shivaji Nagar, Krishna Mandir, 4-8 Marla, Ganga Giri Kutiya, Baldev Nagar, Krishna Mandir, Bhim Nagar, Udaybhan Devi Mandir, Bhim Nagar, Geeta Sar Devi Mandir Bhim Nagar, Chintpurni Mandir, Sector-5, Panchmukhi Hanuman Mandir, Sector-7 Extn, Bhuteshwar Mandir, Pataudi Chowk, Sanatan Dharma Sabha, Sector -56, Ram Mandir, Mianwali Colony, Shri Vishal Ram Shyam Mandir, Jacobpura, Ram Mandir, Sector-5, Shiv Mandir, Shivpuri |

Apart from this, the members of Punjabi Biradari Maha Sangathan visited the Kamdhenu Gaushala in Palam Vihar under the chairmanship of Bodh Raj Sikri, President, Punjabi Biradari Maha Sangathan and distributed fodder, jaggery and daily food items to the cows, which cost around Rs. It was up to lakh rupees, donated in which Bodh Raj Sikri Pradhan,

Apart from the Punjabi Biradari Maha Sangathan, Om Kathuria, Chairman of Om Sweets, Mr. Kanhaiya Lal Ji Arya, the famous Arya Samaj official, Mr. Surendra Khullar, head of Central Sanatan Dharma Sabha, Mr. Ramlal Grover, General Secretary of the organization, well-known social worker Mr. C. B. Manchanda ji, Yaduvansh Chugh ji, M Kumar ji,

Vijay Batla ji, Mr. Subhash Dudeja ji, Mr. Ramkishan Gandhi ji, Vikas Arya ji, Dharmendra Bajaj ji, Ramesh Kamra ji, Rajkumar Kathuria ji, Narendra Kathuria ji, Arjun Nasa ji, Mr. Sanjay Tandon ji, G Ain Gosain ji, O. P. Kamrao ji, O. P. Kalra ji, Vishnu Deep Malhotra ji and Subhash Nagpal ji etc were present.

Follow us on Facebook 

Follow us on Youtube

Read More News 

Shares:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *